कर्नाटक में चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद शत्रुघ्न का पीएम पर तंज, कहा- ‘PM बनने से कोई बुद्धिमान नहीं हो जाता’

कर्नाटक में चुनाव प्रचार थम गया है लेकिन इस अभियान से बीजेपी के स्टार नेता शत्रुघ्न सिन्हा को दूर रखा गया. प्रचार खत्म होने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्विटर के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कड़ा वार किया. उन्होंने ट्वीट में मोदी को टैग किया और कहा कि प्रधानमंत्री बनने से कोई बुद्धिमान नहीं बन जाता. इतना ही उन्होंने प्रचार के दौरान पीएम मोदी की भाषा पर भी सवाल उठाए.

शत्रुघ्न ने ट्वीट किया कि कर्नाटक में आज चुनाव प्रचार थम गया है, लेकिन बिहार-यूपी की तरह मुझे यहां पर भी प्रचार के लिए नहीं बुलाया गया था, कारण हम सभी को पता है. लेकिन एक पुराने दोस्त की तरह मैं इतना कहना चाहूंगा कि आपको प्रधानमंत्री पद की गरिमा रखनी चाहिए.

शत्रुघ्न ने कहा कि हम कांग्रेस पर PPP तरह के कमेंट क्यों कर रहे हैं, जबकि नतीजा तो 15 मई को आना है. प्रधानमंत्री बनने से कोई बुद्धिमान नहीं बन जाता है. कर्नाटक में जनता को तय करने दीजिए. शत्रुघ्न सिन्हा ने इन सभी ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को भी टैग किया है.

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की श्रीदेवी की मौत की स्वतंत्र जांच की मांग

आपको बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा पिछले काफी समय से पार्टी और सरकार के खिलाफ बयानबाजी करते रहे हैं. अभी हाल ही में अन्य सीनियर नेता यशवंत सिन्हा ने बीजेपी छोड़ दी थी, जिसके बाद बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने शत्रुघ्न सिन्हा को भी पार्टी छोड़ने की सलाह दी थी.

हालांकि, शत्रुघ्न ने उनपर पलटवार भी किया था. सुशील मोदी पर हमला करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने उन्हें एक छोटा नेता बताया. उन्हें बिहार में कोई भी पहचानता नहीं है. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि सुशील मोदी प्रदेश में लोकप्रिय नहीं हैं. पार्टी उन्हीं की वजह से 2015 के विधानसभा चुनाव में हारी थी.

शत्रुघ्न सिन्हा पिछले कुछ समय में कई विपक्षी पार्टियों के नेताओं से लगातार मुलाकात करते रहे हैं. जिनमें एमके स्टालिन, लालू प्रसाद यादव, स्वाति मालीवाल, ममता बनर्जी जैसे नेता शामिल हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बड़ी खुशखबरी: अब इस कार्ड के जरिये यात्री कर सकेंगे बस, मेट्रो और ऑटो में सफर

जल्द ही देशवासियों को एक शहर से दूसरे