क्या आपको पता है छींक रोकने से हो सकता है यह खतरनाक बीमारी, जाने क्यों?

- in हेल्थ

कई लोगों की एक बात आपने नोटिस की होगी कि वे छींक आने पर उन्हें दबा लेते हैं। उन लोगों को सार्वजनिक रूप से छींकना सही नहीं लगता है। उन्हें लगता है कि उनकी छींक से आस-पास के लोगों के सामने क्या इम्प्रेशन पड़ेगा। मीटिंग में हो या किसी भरी सभा में, छींक को रोकना या दबाना खतरनाक हो सकता है।

क्या आपको पता है छींक रोकने से हो सकता है यह खतरनाक बीमारी, जाने क्यों?

यह तो आप जानते होंगे कि छींक आना एक नैचुरल प्रोसेस है और अगर आपको छींक आती है तो समझ जाइए कि आप स्वस्थ हैं। लेकिन अगर इसे दबाएंगे तो भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है वास्तव में जब कोई बाहरी तत्व हमारे शरीर में प्रवेश कर रहा होता है तो हमें छींक आ जाती है और वो संक्रामक चीज बाहर ही रह जाती है। छींक के कारण नाक से 160 किमी/घंटा की गति से हवा निकलती है। छींक को रोकते हैं तो यह दबाव शरीर के अन्य अंगों की ओर चला जाता है जिसके कारण ईयरड्रम फट सकता है और आपको सुनाई देना बंद हो सकता है।

लोगो को फटाफट गोरा बना देता हैं ये नुस्खा, एक बार आप भी जरूर करें ट्रॉय

छींक शरीर में प्रवेश करने वाले कई हानिकारक बैक्टीरिया को रोकने का काम भी करती है। यदि आप अपनी छींक रोकते हैं तो ये रोगाणु शरीर के अंदर ही रह जाते हैं और बीमारी का कारण बनते हैं। कई बार छींक रोकने की वजह से आंखों की रक्त वाहिकाएं प्रभावित हो जाती हैं। इसके अलावा गर्दन में भी मोच आ सकती है। कुछ दुर्लभ मामलों में दिल का दौरा आने की भी आशंका रहती ही है। छींक रोकने का प्रभाव ज्यादा हो तो दिमाग की नसों पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है।

You may also like

अगर आपके शरीर के इस हिस्से में होता है दर्द तो आपको होने वाला है कैंसर

कैंसर एक ऐसी अवस्था है जिसमें शरीर के