भूल से भी शाम को न करें ये काम, वरना मां लक्ष्मी हो जाएगी नाराज…

हिंदू धर्म के अनुसार शास्त्रों में ऐसी कई बातें बताई गई हैं जिनका पालन किया जाए तो व्यक्ति के जीवन में कभी भी किसी प्रकार की परेशानी नहीं आती हैं। वहीँ, शास्त्रों में हर काम के कुछ नियम बताए गए हैं जिन्हें उनके अनुसार किया जाए तो घर में सुख-शांति, समृद्धि बनी रहती हैं। इसी तरह मान्यताओं के अनुसार शाम के वक्त कुछ कम ऐसे होते हैं जिन्हें करने से बचना चाहिए क्योंकि सूर्यास्त के समय कई नकारात्मक शक्तियां आस-पास मौजूद रहती हैं। आज इस कड़ी में हम आपको उन काम के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें शाम के समय किया जाए तो मां लक्ष्मी नाराज हो जातो हैं और घर में दुर्भाग्य का आगमन होता हैं। शाम के समय ऐसें काम नहीं करने चाहिए जिससे कि आपके देवी-देवता आपसे अप्रसन्न हो जाए। आइए जानते हैं शाम के समय कौन-से काम नहीं करने चाहिए…

मुख्य दरवाजा रखें खुला


सायंकाल के समय हमेशा ध्यान रखें कि मुख्य दरवाजा खुला रहे। इस अवधि में मुख्य दरवाजा बंद नहीं करने चाहिए। लोक मान्यताओं के अनुसार, शाम के समय लक्ष्मी का आगमन होता है इसलिए पहली शाम के समय में ही दरवाजा खोलकर रख लें। माना जाता है कि ऐसा करने से घर में लक्ष्मी आती हैं और बरकत होती है।

न लगाए झाड़ू

ज्योतिष विज्ञान में झाड़ू के उपाय बताए गए हैं। वहीं बड़े-बुजुर्गों के अनुसार दिन ढलते समय घर में झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। ऐसा करने से अच्छी चीजें भी घर से बाहर हो जाती हैं और महालक्ष्मी की बहन अलक्ष्मी घर में आ जाती हैं। इसलिए शाम के समय कभी भी झाड़ू नहीं लगानी चाहिए।

स्त्री अपमान महापाप


बड़े-बुजुर्गों के अनुसार शाम के समय भूलकर भी स्त्री का अपमान नहीं करना चाहिए। ध्यान रखें इस बात का ख्याल पर्सनल और प्रोफेशनल दोनों ही स्थानों पर रखना चाहिए। मान्यता है कि इस समय स्त्री का अपमान करने से देवी लक्ष्मी हमेशा के लिए रूठ जाती हैं और व्यक्ति कंगाल हो जाता है।

इन चीजों को देने से बचें


शाम के समय कभी भी किसी को लहसुन-प्याज और सुई नहीं देनी चाहिए। अगर जरूरत है बाजार से खरीद लगाएं या फिर सुबह तक इंतजार कर लें लेकिन शाम के समय किसी को भी न तो लहसुन-प्याज और सुई दें और न ही लें। शाम के समय घर में से इन चीजों का निकलना अशुभ माना जाता है। ऐसा करने से घर में नकारात्मक शक्तियों का वास हो जाता है। साथ ही घर के सदस्यों के बीच प्रेम भाव खत्म हो जाता है।

तुलसी को छूना अपराध


शाम के समय तुलसी का छूना शास्त्रों में वर्जित बताया गया है क्योंकि इस अवधि में तुलसीजी लीला करने जाती हैं। शास्त्रों में तुलसीजी को राधा रानी का रूप बताया गया है और शाम के समय वह लीला करने चली जाती हैं इसलिए शाम के समय तुलसी को छूना अपराध माना जाता है। आप इस समय तुलसी को बिना छुए दीपक से आरती करनी चाहिए।

ना करें सोने की गलती

बड़े-बुजुर्गों के अनुसार शाम के समय कभी भी सोना नहीं चाहिए। मान्यता है कि जो लोग शाम को सोते हैं वहां देवी लक्ष्मी कभी भी निवास नहीं करतीं। इसलिए भूलकर भी शाम के समय घर में नहीं सोना चाहिए।

भोजन करने से आती हैं दरिद्रता


शाम के समय भोजन करना भी अपराध माना गया है। महाभारत के अनुशासन पर्व में जानकारी दी गई है कि शाम के समय भोजन करने से उम्र घटती है और सेहत पर भी अच्छा असर नहीं पड़ता। इस समय भोजन करने से इसका सीधा प्रभाव मन-मस्तिष्क के साथ पाचन क्रिया पर पड़ता है। साथ ही धन का नाश होता है और घर में दरिद्रता आती है।

लेन-देन करने से बचें


सायंकाल के समय कभी भी धन का लेन-देन नहीं करना चाहिए। इस अवधि में ना तो किसी को उधार दें और ना ही लें। मान्यता है कि इस अवधि में लिया और दिया गया धन हमेशा मुसीबत में डालता है। धन से संबंधित जितने भी कार्य हैं, उनको हमेशा सुबह करना चाहिए। शाम के समय धन का लेन-देन करने से देवी लक्ष्मी घर से चली जाती हैं और यह बहुत बड़ा अपशकुन माना जाता है।

कलह-कलेश करने से बचें


शाम के समय हमेशा घर में हंसी-खुशी का माहौल रखना चाहिए। किसी भी तरह की बहसबाजी-विवाद, रोने और कलह से दूर रहना चाहिए। यह बहुत बड़ा अपशकुन माना गया है। ऐसा करने से घर में लक्ष्मी की बहन अलक्ष्मी का आगमन होता है। अलक्ष्मी के आगमन से जिंदगी के सभी क्षेत्रों में समस्याओं का सामना करना पड़ता है और आर्थिक स्थिति खराब हो जाती है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

17 − 9 =

Back to top button