पंजाब के नए मंत्रियों को मिले विभाग, रजिया और अरुणा के बदले विभाग

चंडीगढ़। मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने अपने मंत्रिमंडल में शामिल किए गए नए म‍ंत्रियों को विभागों का वितरण कर दिया है। राज्‍यमंत्री से कैबिनेट मंत्री बनाई गईं अरुणा चौधरी और रजिया सुल्‍ताना के विभागों में बदलाव किया गया है। पंजाब में अपनी सरकार बनने के एक साल बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को मंत्रिमंडल का विस्तार करते हुए नौ नए चेहरों को इसमें जगह दी। 11 विधायकों के बहिष्कार व दलित संगठनों के विरोध के बीच पंजाब राजभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर ने 11 मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।पंजाब के नए मंत्रियों को मिले विभाग, रजिया और अरुणा के बदले विभाग

विधायकों और दलित संगठनों के विरोध के बीच कैप्टन ने किया कैबिनेट का विस्तार

मुख्यमंत्री को मिला कर अब मंत्रिमंडल में मंत्रियों की संख्या 18 हो गई है। एक तरफ शपथ ग्रहण समारोह चल रहा था, तो दूसरी तरफ राजभवन के बाहर दलित संगठन मंत्रिमंडल में दलित चेहरों को पूरा प्रतिनिधित्व न दिए जाने के विरोध में राजभवन के सामने नारेबाजी करते रहे। पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर दलित संगठनों के प्रतिनिधियों को खदेड़ दिया।

दलितों को पूरा सम्मान दिया: कैप्टन

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि सरकार ने चार दलित विधायकों को मंत्रिमंडल व सरकार में ओहदे देकर उचित मान सम्मान दिया है, जो कि 25 फीसद कोटा बनता है। इसलिए मंत्रिमंडल में दलितों के प्रतिनिधित्व पर उठाए जा रहे सवाल का कोई मतलब नहीं हैं।

शपथ ग्रहण समारोह में ये विधायक रहे गायब

शपथ ग्रहण समारोह से कांग्रेस के 11 विधायक गायब रहे। परगट सिंह, राजकुमार वेरका, संगत सिंह गिलजियां, राकेश पांडेय, रनदीप नाभा, सुरजीत सिंह धीमान, नत्थू राम, गुरकीरत सिंह कोटली, अमरीक सिंह ढिल्लों, नवतेज सिंह चीमा व अमरिंदर सिंह राजा वडिंग़ ने शपथ ग्रहण समारोह का बहिष्कार करते हुए शिरकत नहीं की।

नए मंत्री और उनके विभाग-

1. ओम प्रकाश सोनी: स्कूल शिक्षा एवं स्वतंत्रता सेनानी।

विभाग विभाग विभाग

2. राणा गुरमीत सिंह सोढी: खेल एवं युवा मामले।

3. अरुणा चौधरी: सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल कल्याण, परिवहन।

4. रजिया सुल्ताना: उच्च शिक्षा, वाटर सप्लाई एवं स्वच्छता (पब्लिक हेल्थ)।

5. सुखजिंदर सिंह रंधावा: सहकारिता व जेल।

6. सुखबिंदर सिंह सरकारिया: राजस्व, पुनर्वास एवं आपदा प्रबंधन, जल स्रोत, खनन एवं भूविज्ञान।

7. गुरप्रीत कांगड़: ऊर्जा, नवीकरणीय ऊर्जा।

8. बलबीर सिंह सिद्धू: पशुपालन एवं डेयरी विकास, श्रम।

9. विजय इंद्र सिंगला: पीडब्लूडी, इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी।

10. सुंदर श्‍याम अरोड़ा: उद्योग एवं वाणिज्य।

11; भारत भूषण आशु: खाद्य एवं आपूर्ति व उपभोक्ता मामले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

यूपी: बहराइच में अब तक 70 से अधिक बच्चों की मौत, देखने पहुंचे डॉ. कफील खान अरेस्ट

उत्तर प्रदेश के बहराइच में संक्रमण के साथ