कोरोना के कहर से कांपी दिल्ली, 131 मौतें, 7486 संक्रमित, सर्वदलीय बैठक शुरू

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण का खतरा और भी गहराता जा रहा है। एक तरफ कोरोना तो दूसरी ओर प्रदूषण ने भी बढ़त बना रखी है। जिसकी वजह से वहां की हवा भी काफी प्रदूषित हो गई है। राजधानी में कोरोना संक्रमण से पहली बार एक दिन में 131 लोगों की मौत हुई है। यह आंकड़ा कफी चौंका देने वाला है। जबकि 7486 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। वहीं राहत की बात यह है कि 6901 लोगों ने कोरोना को हरा कर अपने घरों में सुरक्षित पहुंच गए हैं। हालात को देखते हुए दिल्ली के सीएम केजरीवाल द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक शुरू हो गई है।

Ujjawal Prabhat Android App Download

अवगत हो कि दिल्ली में कोरोना का यह तीसरा पीक है। इससे पहले जून में पहला और सिंतबर में दूसरा पीक आया था। पहले पीक के दौरान दिल्ली में सबसे ज्यादा मौतें दर्ज की गई थीं। उस दौरान पुराना रिकॉर्ड देरी से मिलने के चलते यह आंकड़ा ज्यादा मिल रहा था, लेकिन तीसरा पीक आते-आते रोजाना होने वाली मौतों में पिछले एक दिन का आंकड़ा सबसे ज्यादा है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, 62,232 सैंपल की जांच में 12.03 फीसदी संक्रमित मिले हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 5,03,084 हो गई है, जिनमें 4052,683 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। अब तक 7943 मरीज दम तोड़ चुके हैं। दिल्ली में कोरोना की मृत्युदर 1.58 फीसदी है और संक्रमण दर 9 फीसदी है। फिलहाल 42,458 सक्रिय मरीज हैं।

विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि त्योहार के चलते तीन दिन तक जांच में कमी के बाद अब धीरे-धीरे आंकड़ा बढ़ रहा है। कुछ समय पहले तक दिल्ली में 10 हजार के आसपास आरटी-पीसीआर जांच हो रही थी। पिछले एक दिन में 19,085 जांच आरटी-पीसीआर तकनीक से हुई हैं। अब तक 55,90,654 जांच हो चुकी हैं।

कोरोना को लेकर केजरीवाल का बयान, कहा- बेहतर स्थिति में हम…

फिलहाल 24842 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या बढ़कर अब 16884 हो गई है, जिनमें से 9343 बिस्तर भरे हैं। कोविड केयर सेंटर में भी कुल बिस्तर 8217 में से 568 ही भरे हैं।

10 दिन में सबसे ज्यादा मौतें
आंकड़ों के अनुसार, देश में सबसे ज्यादा मौतें दिल्ली में दर्ज की जा रही हैं। स्थिति यह है कि पिछले 10 दिन में कोरोना मरीजों की मौत के चलते मृत्युदर 1.48 फीसदी दर्ज की गई, जो बाकी राज्यों की तुलना में सर्वाधिक है। केंद्र सरकार भी अस्पतालों के स्तर पर दिल्ली में दोबारा रणनीति बनाने की सलाह दे रही है।

एक माह में दूसरी बार 100 से ज्यादा मौतें
इस माह में दूसरी बार एक दिन में 100 से ज्यादा लोगों की मौत हुई हैं। इससे पहले 12 नवंबर को 104 मरीजों ने दम तोड़ दिया था। 13 को 91, 14 को 96, 15 को 95 और 16 व 17 नवंबर को 99-99 लोगों की मौत हुई। 12 से 18 नवंबर के बीच पिछले सात दिन की बात करें तो पहली बार सात दिन में 715 लोगों की मौतें हुईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button