बांग्लादेश में कोरोना ने मचाया कोहराम, हैरान कर देने वाले हैं मौत के ये आकड़े…

बांग्लादेश में कोरोना वायरस से हालात बेहद खराब हैं। पिछले तीन दिनों में हर 14 मिनट में एक संक्रमित व्यक्ति की मौत हुई है। देश में कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा 10,385 पहुंच गया है। रविवार को देश में 18 मार्च, 2020 के बाद पहली बार संक्रमण से मरने वालों की संख्या 102 दर्ज की गई है। मृतकों में 59 पुरुष और 43 महिलाएं शामिल हैं।

कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वाले लोगों में से 63 लोग 60 वर्ष से अधिक आयु के थे, 23 लोग 51-60 वर्ष की आयु सीमा के बीच, 14 लोग 41-50 वर्ष की आयु सीमा के और दो लोगों 31-40 वर्ष की आयु सीमा के बीच के थे। इसमें से 68 लोगों की मौत ढाका में दर्ज की गई है। चटगांव में 22 लोगों की मौत, मेमनसिंह और बारिसल में 4-4 लोगों की मौत, राजशाही में तीन की मौत और खुलना में एक की मौत हुई है।

इन सब के बीच, 1000 बेड क्षमता वाले ढाका नॉर्थ सिटी कॉरपोरेशन (DNCC) अस्पताल का उद्घाटन किया गया है। रविवार सुबह संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए सभी आवश्यक सुविधाओं के साथ इसे शुरू कर दिया गया है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री, जाहिद मालेक ने आइएएनएस को बताया, ‘बांग्लादेश दुनिया के अन्य देशों की तरह महामारी की दूसरी लहर का सामना कर रहा है और देश के लगभग सभी अस्पताल कोविड-19 रोगियों से भरे हुए हैं। देश में संक्रमण और मरने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है।

उन्होंने कहा कि रोगियों के इलाज के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार करना जरूरी है। सरकार ने ढाका नॉर्थ सिटी कॉरपोरेशन अस्पताल को कोरोना वायरस पॉजिटिव रोगियों के जीवन की सुरक्षा के लिए सभी आधुनिक उपकरणों से स्थापित किया है। बांग्लादेश में महामारी की दूसरी लहर को रोकने के लिए 5 अप्रैल से एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन लगाया गया था, जिसे बाद में बढ़ा कर 21 अप्रैल कर दिया गया है। हालांकि, कोविड-19 नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी ने बढ़ते मामलों को देखते हुए सख्त लॉकडाउन को एक और सप्ताह के लिए बढ़ाने की सिफारिश की है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button