फैशन में नया तड़का लगा रहे जुटे बैग्स, इस्तेमाल से होते हैं फायदे

मार्केट पॉलिथीन बंद होने के बाद से जुटे बैग्स का मार्केट में चलन बढ़ गया है क्योकि ये दिखने में भी काफी आकर्षक और कई डिज़ाइन में आते है, और साथ ही इनके प्रिंट्स काफी सूंदर दिखते है ऐसे में इन बैग्स को कैर्री करना काफी स्टाइलिश लुक देता है, आज हम आपके साथ शेयर करने जा रहे है जुटे बैग्स को कैर्प करने के होने वाले फायदों के बारे में, तो देर किस बात की है।

Loading...

आइये जानते हैं इनके बारे में-

आजकल सबसे ज्यादा जोर कंधे पर लटकाने वाले जूट बैग्स का है। इन दिनों जूट बैग्स स्टाइल स्टेटमेंट हैं व फैशनेबल, ट्रेंडी, फैंसी और क्लासिक बैग्स के रूप में आ रहे हैं और अब प्लास्टिक बैग्स बंद होने के बाद लोगों की जरूरत बन गए हैं। यदि आप भी शापिंग पर जाने की सोच रही हैं तो जूट बैग एक बेहतर विकल्प है।

जूट शब्द संस्कृत के जटा रूप से निकला है। जूट एक बायोडिग्रेडेबल आइटम है और इसका दोबारा से इस्तेमाल किया जा सकता है। जो पर्यावरण के अनुकूल है। खरीदारी करने के उपयोग में लाए जाने वाले जूट बैग लैमिनेटेड होते हैं। इससे बायो डिग्रेडेब्ले माना जाता है और पर्यावारायण को कोई भी नुकसान नहीं पहुँचता है।

प्लास्टिक थैलियों की पैकेजिंग से पर्यावरण को होने वाले नुकसान को कम करने की दिशा में इसे क्रांतिकारी कदम माना जा रहा है। प्लास्टिक की थैलियां कूड़े का पहाड़ खड़ा कर रही हैं और वे नष्ट नहीं होतीं जबकि जूट से बना सामान कूड़ेदान में पहुंचते ही नष्ट हो जाता है। ये अलग अलग साइजेस और अलग-अलग हैंडिल्स में उपलब्ध हैं।

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button