गंगा के तट पर आने से मिलती है असीम शांति: लालकृष्ण आडवाणी

- in उत्तराखंड, राज्य

भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी निजी प्रवास पर परमार्थ निकेतन पहुंचे। उन्होंने मां गंगा से आशीर्वाद लिया।

शुक्रवार को लालकृष्ण आडवानी अपनी पुत्री प्रतिभा आडवाणी, बहु गीतिका, पुत्र जयंत आडवानी व अन्य परिवारजनों के साथ परमार्थ निकेतन पंहुचे। परमार्थ आश्रम में लालकृष्ण आडवानी व उनके परिवार के सदस्यों का स्वागत किया गया।

सीएम योगी पर सोनभद्र के सांसद ने लगाया ये बड़ा आरोप

मीडिया से संक्षिप्त बातचीत में लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि गंगा के तट पर होने से असीम शांति मिलती है। यही वजह है कि वह बार-बार यहां चले आते हैं। उन्होंने कहा कि परमार्थ निकेतन से उनकी दिवंगत पत्नी कमला आडवाणी की यादें जुड़ी हुई है। यहां आकर वह व उनके परिवार के सदस्य कमला आडवाणी को यादों को महसूस कर पाते है। उन्होंने कहा कि वह भी कुछ दिन यहां बिताएंगे। उन्होंने परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती महाराज से भी मुलाकात की। 

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के