सीएम योगी ने शामली दौरे पर कैराना का किया भ्रमण, पलायन करने के बाद वापसी व्यापारियों से कही यह बात

शामली, उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शामली के अपने दौरे पर सोमवार को कैराना का भ्रमण किया। इस दौरान उन्होंने यहां से पलायन करने के बाद वापसी करने वाले व्यापारियों को सुरक्षा का भरोसा भी दिलाया। सीएम योगी आदित्यनाथ शामली के कैराना में 2016 में प्रवास के बाद लौटे कैराना निवासियों से मिले। कैराना में कई परिवार 2016 में दूसरे समुदाय की धमकियों के कारण पलायन कर गए थे

मुख्यमंत्री ने व्यापारियों से कहा कि आप लोग निडर होकर अपने घरों में रहें और अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाएं। प्रदेश में अब आपकी सरकार है। यह सबकी सरकार है। प्रदेश में अब कानून का राज चल रहा है। सभी अपराधी या तो जेल के अंदर हैं या फिर ऊपर चले गए हैं। कैराना का माहौल अब पहले से काफी बेहतर हो गया है। यहां पर तो शातिर अपराधी अपने आप ही सरेंडर कर रहे हैं। उनको पता है कि अब उनको सत्ता से कोई भी सरंक्षण नहीं मिलेगा। अब उनकी सारी गैरकानूनी गतिविधियों पर लगाम लगी है। इनकी अवैध संपत्तियों को जब्त कर गरीबों के लिए आवास बनाए जा रहे हैं।

अब यहां पर गुंडागर्दी जरा सी भी नहीं होगी। अब प्रदेश में गुंडों को शरण देने वाली नहीं उनका दमन करने वाली सरकार काम कर रही है। यह देखकर अच्छा लगा की माहौल बेहतर होने के कारण यहां से पलायन करने वाले भी अब वापस आ गए हैं। उन्होंने कहा कि कैराना में ही पीएसी कैंप की स्थापना का संदेश भी स्पष्ट है कि यह सबकी सरकार है, कोई गुंडा-माफिया हावी नहीं हो सकता और प्रदेश में केवल कानून का राज चलेगा।

लखनऊ से शामली पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ सबसे पहले कैराना कस्बे में पहुंचे और उन पीडि़त परिवारों से मिले, जो कि गुंडगर्दी के कारण यहां पर अपने घरों में ताला लटकाकर चले गए थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां पर कम दूरी पर ही पुलिस चौकी बना दी गई है, जबकि शामली में पीएसी की एक बटालियन की स्थापना भी करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। उन्होंने कहा कि कैराना में विकास की प्रक्रिया भी शुरु होने के साथ व्यवसाय भी काफी बढ़ रहा है। कनेक्टिविटी भी बेहतर करने के लिए बाइपास भी बनाया गया है। शामली के कैराना पहुंचने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ सबसे पहले पलायन कर वापस लौटे व्यापारी विजय मित्तल के आवास पर पहुंचे। उनके साथ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह तथा कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा भी थे।  

कैराना के पीड़ित परिवारों को मिलेगा मुआवजा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कैराना से पलायन कर वापस लौटे विजय मित्तल के आवास पर दोपहर का भोजन किया। इसके बाद योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कैराना में हिंदू परिवारों पर अत्याचार हुए तभी लोग यहां से पलायन करने को मजबूर हुए। अब सरकार की कोशिश है कि लोग अपने पूर्वजों की भूमि पर रहें और अपनी संस्कृति एवं व्यापार को आगे बढ़ाएं। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन से कैराना के विषय में विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई है। पीड़ित परिवारों को सरकार मुआवजा भी देगी।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × two =

Back to top button