ईसाई प्रचारक बिली ग्राहम का 99 वर्ष की उम्र में हुआ निधन

दुनियाभर में लाखों लोगों को ईसाई धर्म की शिक्षा देने वाले बिली ग्राहम का 99 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। बुधवार को स्थानीय समय के अनुसार, सुबह आठ बजे उन्होंने उत्तरी कैरोलिना (अमेरिका) के मांट्रीट शहर में अपने घर पर आखिरी सांस ली। उनके संगठन के अनुसार, उन्होंने इतिहास में किसी अन्य व्यक्ति की तुलना में सबसे ज्यादा लोगों को ईसाई धर्म का उपदेश दिया। गृह राज्य उत्तरी कैरोलिना से लेकर कम्युनिस्ट देश उत्तरी कोरिया तक उनके लाखों अनुयायी हैं।

सीरिया के पूर्वी घौता इलाके में हवाई हमलों और गोलाबारी से 48 घंटों में 250 की मौत: मानवाधिकार समूह

बिली ग्राहम रिचर्ड निक्सन से लेकर अब तक कई राष्ट्रपतियों के कार्यकाल में व्हाइट हाउस के पादरी रह चुके थे। उनके निधन पर कई लोगों ने शोक प्रकट किया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि महान बिली ग्राहम नहीं रहे। उनके जैसा कोई दूसरा नहीं था। ईसाई और अन्य धर्मों के लोग उनकी कमी महसूस करते रहेंगे। पिछले सालभर से वे वीडियो के जरिये लोगों को उपदेश दे रहे थे। इसका प्रसारण फॉक्स न्यूज पर होता था।

You may also like

रूस से एस-400 मिसाइल की खरीद पर अमेरिका नाराज, भारत पर लगाएगा प्रतिबंध!

अमेरिका के ट्रंप प्रशासन ने कहा है कि भारत का