चीन के संविधान में बड़ा बदलाव, 2 बार राष्ट्रपति बनने की समयसीमा होगी खत्म

शी जिनपिंग अनिश्चितकाल के लिए चीन के राष्ट्रपति बने रह सकते हैं। चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ने रविवार को संविधान की उस धारा को निरस्त करने का प्रस्ताव जारी किया है जिसमें चीन के राष्ट्रपति के दो टर्म पूरा करने के बाद इस पद पर बने रहने की समय सीमा खत्म होने की बात है।

 

चीन के संविधान में बड़ा बदलाव, 2 बार राष्ट्रपति बनने की समयसीमा होगी खत्मसंविधान की धारा के तहत उन्हें इस पद पर अनिश्चितकाल के लिए बने रहने के लिए संविधान के नियम में बदलाव किया जा सकता है। इससे साफ है कि चीन में दो बार राष्ट्रपति बनने की समयसीमा खत्म हो जाएगी।

बता दें कि 64 वर्षीय जिनपिंग ने राष्ट्रपति के तौर पर 2013 में कार्यभार संभाला था। पिछले साल कम्युनिस्ट पार्टी ने नेशनल कांग्रेस की बैठक में जिनपिंग को दूसरी बार राष्ट्रपति चुना गया था।
शी का यह कार्यकाल पांच वर्ष का होगा। सीपीसी की पांच वर्ष में एक बार होने वाली बैठक में नए नेतृत्व का चुनाव किया जाता है, जिसमें पार्टी के प्रमुख सहित पोलित ब्यूरो के सदस्यों को चुना जाता है। 

बंद दरवाजे के भीतर हुए मतदान में 64 वर्षीय जिनपिंग को पोलित ब्यूरो की स्थायी समिति का अध्यक्ष चुना गया। पोलित ब्यूरो के पांच सदस्य भी चुने गए हैं। बीजिंग के ग्रेट हॉल ऑफ द पीपुल से इस कार्यक्रम का दुनिया भर में सीधा प्रसारण किया गया। वहीं प्रीमियर ली केकियांग ने सभी-शक्तिशाली सात सदस्यीय समिति पर अपनी सीट कायम रखी, जिनमें पांच नए चेहरे हैं।

बैठक के दौरान पांच नए सदस्यों ने 68 वर्ष की आयु पूरी कर सेवानिवृत्त हो रहे सदस्यों का स्थान लिया था। अपने संबोधन में जिनपिंग ने कांग्रेस (बैठक) की खबरें सभी तक पहुंचाने के लिए कड़ी मेहनत करने पर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मीडिया को धन्यवाद दिया था। 

Loading...

Check Also

राजस्थान: आखिर इस बात पर पायलट और गहलोत को लेकर क्यों मजबूर हुए राहुल गांधी

राजस्थान का सियासी रण काफी दिलचस्प हो गया है. एक तरफ सत्ताधारी बीजेपी, पार्टी में …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com