CBSE NEET result 2018: बिहार की बेटी कल्पना कुमारी (99.99 percentile) ने किया टॉप

- in करियर

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET) 2018 के रिजल्ट घोषित कर दिए हैं. इस साल बिहार की रहने वाली कल्पना कुमारी ने 99.99 percentile के साथ ऑल इंडिया नंबर 1 रैंक हासिल किया है.

कल्पना ने 720 में से 691 मार्क्स हासिल करके देशभर में पहला रैंक पाया है. कल्पना कुमारी को फिजिक्स में 180 में से 171, केमिस्ट्री में 180 में से 160 और बायोलॉजी में 360 में से 360 मार्क्स मिले हैं.

इसी के साथ ही 720 में से 690 मार्क्स हासिल करके तेलंगाना के रोहन पुरोहित ने दूसरा स्थान हासिल किया है. दिल्ली के हिमांशु शर्मा को भी 690 मार्क्स मिले हैं और वो तीसरे स्थान पर है. दिल्ली के ही आरोश धामिजा और राजस्थान के प्रिंस चौधरी ने 686 मार्क्स के साथ क्रमश: चौथा और पांचवा स्थान हासिल किया है.

इससे पहले CBSE ने जानकारी दी थी कि 5 जून को रिजल्ट जारी किए जाएंगे, लेकिन एक दिन पहले ही रिजल्ट घोषित कर दिए गए.

बता दें कि NEET का एग्जाम देश के नामी मेडिकल कॉलेजों में MBBS और BDS के दाखिले के लिए लिया जाता है. हालांकि AIIMS जैसे संस्थान में एडमिशन के लिए अलग से एग्जाम लिया जाता है.

राजस्थान विवि भर्ती 2018: आवेदन के लिए मात्र इतने शेष

NEET 2018 का एग्जाम 6 मई देश के 130 शहरों में बनाए गए 2,255 सेंटर पर लिया गया था. इस साल 13 लाख स्टूडेंट्स ने NEET का एग्जाम दिया था.

ये है परसेंटेज और परसेंटाइल में मुख्य अंतर

परसेंटेज और परसेंटाइल में ये फर्क है कि जहां परसेंटेज का मतलब ये होता है कि अगर आपको 100 में से 80 अंक आएं हैं तो इसका सीधा मतलब ये हुआ कि आपको 80 फीसद अंक मिले हैं. अगर आपको 80 परसेंटाइल आए हैं तो इसका ये मतलब हुआ कि आप कुल परीक्षार्थियों में 80 फीसद परीक्षार्थियों से आगे हैं. यह एक तरह की रैंक होती है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

#बड़ी खुशखबरी: 50000 रु वेतन के साथ केरल में प्रोफ़ेसर पदों पर पाए नौकरी

केरल विश्वविद्यालय मत्स्य पालन और महासागर अध्ययन द्वारा