सोशल मीडिया की फर्जी खबरों पर लगेगा ब्रेक, IT और कानून मंत्रालय तय करेंगे दिशा-निर्देश

- in राष्ट्रीय
फेसबुक, ट्विटर, वाट्सएप और यू-ट्यूब समेत सबसे ज्यादा चलने वाले 6 सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर फर्जी खबरों पर अंकुश लगाने की तैयारी शुरू हो गई है। सूचना एवं प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्रालय और कानून मंत्रालय ने इसके लिए दिशा-निर्देश लाने पर आपस में चर्चा शुरू कर दी है। सोशल मीडिया की फर्जी खबरों पर लगेगा ब्रेक, IT और कानून मंत्रालय तय करेंगे दिशा-निर्देश

आईटी मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, कानून मंत्रालय ने आईटी मंत्रालय से कुछ दस्तावेज मांगे हैं, जिसके बाद दोनों मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों के बीच सोशल मीडिया पर अंकुश लगाने के लिए प्रयास पर चर्चा की गई। दोनों ही मंत्रालय रोक लगाने के लिए दिशा-निर्देशों की रूपरेखा तैयार कर रहे हैं। इसके बाद केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के साथ चर्चा कर इस बारे में कोई निर्णय लिया जाएगा।

लगातार बढ़ रही हैं घटनाएं
उत्तराखंड के एक छोटे से कस्बे में हाल ही में सोशल मीडिया में आई फर्जी खबर की वजह से तनाव की स्थिति बन गई थी। सूबे के रुद्रप्रयाग जिले में पुलिस ने इस मामले में एफआईआर भी दर्ज की है, जबकि एक अन्य घटना राजधानी देहरादून में भी हुई थी। इससे पहले महाराष्ट्र, झारखंड, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल समेत देश के अन्य राज्यों में भी ऐसी घटनाएं हो चुकी हैं।

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने भी मांगा है जवाब
सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने आईटी मंत्रालय से सोशल मीडिया पर आई फर्जी खबरों के खिलाफ उठाए जा रहे कदमों की जानकारी मांगी है। सूत्र बताते हैं कि आईटी मंत्रालय ने इस मामले में प्रभावी कदम उठाए जाने और लोगों को जागरूक करने का सुझाव प्रसारण मंत्रालय को दिया है। साथ ही कहा है कि फेसबुक को प्लेटफार्म के दुरुपयोग के लिए हाल ही में चेतावनी दी गई है, जबकि ट्विटर के सीईओ ने केंद्रीय मंत्री को प्लेटफार्म के दुरुपयोग की छानबीन का आश्वासन दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

इस बड़े कारण से 25 साल बाद BJP और शिवसेना का गठबंधन टूटना तय

नई दिल्ली: बीजेपी और शिवसेना के बीच 25 साल