बॉडी बिल्‍डिंग करने वाले क्‍यूं खाते हैं चिकन ब्रेस्‍ट, जानें इसके 10 स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

सेहत की फिक्र करने वाले नॉन वेजिटीरियन लोग अपनी डाइट में चिकन को जरूर शामिल करते हैं क्योंकि इसमें खूब प्रोटीन होता है। मगर चिकन का हर पार्ट प्रोटीन से उतना भरा नहीं होता जितना ब्रेस्‍ट।

बॉडी बिल्‍डिंग करने वाले क्‍यूं खाते हैं चिकन ब्रेस्‍ट, जानें इसके 10 स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

सबसे ज्यादा प्रोटीन चिकन ब्रेस्‍ट में होता है। अगर आप बॉडी बिल्डिंग करते हैं, या आपको एक्स्ट्रा प्रोटीन की जरूरत है तो इस पार्ट को अपने खाने में शामिल करें। इसकी सबसे बड़ी खासियत ये है कि इसमें फैट नहीं होता। यह बाकी के मीट की तरह कॉलेस्ट्रॉल बढ़ाने वाला नहीं होता।

अगर आप दिनभर में 100 ग्राम चिकन ब्रेस्ट खाते हैं तो आपको उसमें 25 से 30 ग्राम प्रोटीन, 100 से 120 कैलोरी, 0 कार्बोहाइड्रेट और 0 फैट होता है। “1. इसमें हाई प्रोटीन होता है” “चिकन ब्रेस्‍ट में प्रोटीन काफी ज्‍यादा पाया जाता है। अगर आप 100 ग्राम चिकन ब्रेस्ट खाते हैं तो उसमें आपको 25 से 30 ग्राम प्रोटीन .

1. इसमें हाई प्रोटीन होता है

चिकन ब्रेस्‍ट में प्रोटीन काफी ज्‍यादा पाया जाता है। अगर आप 100 ग्राम चिकन ब्रेस्ट खाते हैं तो उसमें आपको 25 से 30 ग्राम प्रोटीन मिलेगा। दमदार जिम करने वाले लोगों को ढेर सारे प्रोटीन की जरूरत होती है तो ऐसे में आप खाने के तौर पर चिकन ब्रेस्‍ट खा सकते हैं।

2. मिनरल और विटामिन्‍स

चिकन ब्रेस्‍ट में ढेर सारे मिनरल्‍स और विटामिन्‍स भरे हुए हैं। इसमें विटामिन बी होता है जो कि कैट्ररैक्‍ट और अन्‍य स्‍किन की बीमारियों को दूर करने में मदद करता है। यह शरीर की कमजोरी दूर करता है, इम्‍यूनिटी को बढाता है और पाचन क्रिया को तेज करता है। 

लड़के डार्क सर्कल से ऐसे पा सकते हैं छुटकारा

3. वजन घटाए

वजन घटाना है तो खाने में चिकन ब्रेस्‍ट को जरुर शामिल करें। वेट लॉस डाइट में प्रोटीन रिच फूड को शामिल करना चाहिये क्‍योंकि तभी आप आराम से वजन कम कर पाएंगे। चिकन ब्रेस्‍ट में काफी प्रोटीन होता है जो कि पेट को भरे रखता है।

वजन घटाना है तो खाने में चिकन ब्रेस्‍ट को जरुर शामिल करें। वेट लॉस डाइट में प्रोटीन रिच फूड को शामिल करना चाहिये क्‍योंकि तभी आप आराम से वजन कम कर पाएंगे। चिकन ब्रेस्‍ट में काफी प्रोटीन होता है जो कि पेट को भरे रखता है।

4. ब्‍लड प्रेशर

क्‍या आप जानते है कि चिकन ब्रेस्‍ट ब्‍लड प्रेशर को भी नियंत्रित करता है। जी हां, यह बात सही है। जिन्‍हें हाई बीपी की समस्‍या है वो चिकन ब्रेस्‍ट को बड़े आराम से खा सकते हैं, उन्‍हें काफी फायदा मिलेगा।

5. कैंसर के रिस्‍क को कम करता है

अध्ययनों से पता चला है कि चिकन ब्रेस्‍ट खाने से कैंसर, विशेषकर पेट के कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है। लाल मांस की तुलना में अक्सर चिकन ब्रेस्‍ट लेने से कैंसर का खतरा एक निश्चित स्तर तक कम हो सकता है।

6. उच्च कोलेस्ट्रॉल

चिकन ब्रेस्‍ट की तुलना में लाल मांस में पाए जाने वाले कोलेस्ट्रॉल और संतृप्त वसा की मात्रा अपेक्षाकृत अधिक है। चिकन ब्रेस्‍ट खाने से उच्च कोलेस्‍ट्रॉल के जोखिम को कम किया जा सकता है और विभिन्न प्रकार के हृदय रोग तथा स्ट्रोक की संभावना को कम किया जा सकता है।

7. तनाव तथा चिंता को कम करे

चिकन ब्रेस्‍ट अमीनो एसिड में समृद्ध है, जिसे ट्रिपटोपान कहा जाता है, जो आपके शरीर को तुरन्त आराम देता है। यदि आपका मन उदास या तनाव और स्‍ट्रेस में तो, चिकन ब्रेस्‍ट खाने से आपके मस्तिष्क के सेरोटोनिन के स्तर में वृद्धि होगी, जिससे आपके मनोदशा में सुधार होगा और तनाव दूर होगा।

8. मेटाबॉलिज्‍म बढाए

चिकन ब्रेस्‍ट में विटामिन बी 6 होता है जो चयापचय सेलुलर प्रतिक्रियाओं और एंजाइमों को बढ़ावा देता है, जिसका अर्थ है कि चिकन ब्रेस्‍ट खाने से आपकी खून की धमनियां हमेशा स्‍वस्‍थ रहेंगी। यह आपकी ऊर्जा के स्तर को भी उच्च रखेगा और चयापचय को बढ़ावा देगा, ताकि आपका शरीर अधिक कैलोरी बर्न कर सके।

9. मजबूत हड्डियों के लिए

बढ़ती उम्र के साथ हड्डियां कमजोर होने लगी हैं। ऐसे में चिकन ब्रेस्‍ट खाने से आपकी हड्डियों में ताकत आएगी। रोजाना अगर आप 100 ग्राम चिकन खाते हैं तो आपको काफी मात्रा में प्रोटीन और फास्फोरस मिलेगा जो कि आपकी हड्डियों, दांतों और केंद्रीय तंत्रिका तंत्र को मजबूत रखने में मदद करेगा

10. टोन्‍ड फिगर पाने के लिये

यदि आप भारी हैं और एक टोन्‍ड शरीर पाना चाहती हैं तो चिकन ब्रेस्‍ट खाना शुरु कर दें। चिकन ब्रेस्‍ट में प्रोटीन अधिक होता है जो आपके शरीर की मांसपेशियों को टोन करने में मदद करेगा। हालांकि, इसे अपने आहार में पर्याप्त मैक्रो और सूक्ष्म पोषक तत्वों के साथ संतुलित करना सुनिश्चित करें।

 
Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button