भाजपा ने ली चुटकी, कहा-कांग्रेस में टिकट चाहिए तो देने होंगे 50 हजार रुपए

- in राजनीति

विधानसभा चुनाव 2018 में टिकट की दावेदारी करने वालों के लिए कांग्रेस एक नया प्रयोग करने जा रही है। इस बार पार्टी टिकट की दावेदारी करने वालों से आवेदन के साथ 50 हजार रुपए का डिमांड ड्राफ्ट जमा करवा रही है। महिला, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के दावेदारों के लिए यह राशि 25 हजार रुपए तय की गई है। यह राशि पार्टी में ही जमा हो जाएगी, चाहे टिकट मिले या नहीं।

भाजपा ने ली चुटकी, कहा-कांग्रेस में टिकट चाहिए तो देने होंगे 50 हजार रुपए

कांग्रेस महासचिव और प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस कार्यसमिति में यह फैसला हुआ है। उन्होंने स्वीकारा दावेदारों से राशि लेने की प्रक्रिया इसलिए भी शुरू की गई है ताकि गंभीर और सक्षम लोग ही टिकट की दौड़ में आगे आएं। कांग्रेस गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को टिकट नहीं देगी? इस पर उन्होंने कहा अगर कोई निष्ठावान कार्यकर्ता है और उसका काम अच्छा है, उसकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है तो पार्टी अपवाद मानकर टिकट देगी। पांच मार्च से आवेदन विधानसभा के दावेदार प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पांच मार्च से आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करने की अंतिम तारीख 15 मार्च तय की गई है।

TMC का साथ छोड़ा बाईचुंग भूटिया थाम सकते हैं बीजेपी का हाथ

चतुर्वेदी-पाठक की वापसी नहीं

बाबरिया ने बताया घर वापसी के तहत कई नेताओं ने आवेदन दिए हैं। जिन नेताओं के जाने के बाद पार्टी खराब परिस्थितियों से गुजरी है, उन्हें बिल्कुल भी वापस नहीं लिया जाएगा। चौधरी राकेश चतुर्वेदी और संजय पाठक का नाम लेते हुए उन्होंने उनकी वापसी से साफ इनकार किया है।

काला धन होगा सफेद

भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस सरकार में करो़़डों के घोटाले के बाद अब टिकट के नाम पर मांगी जा रही रकम कालेधन को सफेद करने का उपाय तो नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी के नोटबंदी के फैसले के बाद से तमाम राजनीतिक दलों के काले कारोबार अब संकट से जूझ रहे हैं।

 

You may also like

CM त्रिवेंद्र सिंह रावत का बड़ा बयान, कहा- एक देश एक चुनाव का संकल्प जरूरी

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक देश एक