युवती के हाथ-पैर बांधे, फिर शराब पिलाकर दो दिन तक करते रहे सामूहिक दुष्कर्म

- in अपराध

भिवानी। सदर थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले एक गांव की 20 वर्षीय युवती का कुछ युवक अपहरण कर कार की डिक्की में डालकर खेतों में ले गए। युवकों ने खेतों में ही दो दिन तक युवती को हाथ-पैर बांध कर रखा। इस दौरान चार युवक उससे शराब पिलाकर सामूहिक दुष्कर्म करते रहे। दो दिन बाद आरोपित युवती को गांव में बेहोशी की हालत में फेंककर फरार हो गए।युवती के हाथ-पैर बांधे, फिर शराब पिलाकर दो दिन तक करते रहे सामूहिक दुष्कर्म

पीड़ित युवती 13 जून को शाम करीब साढ़े छह बजे गांव में ही अपनी सहेली से मिलने गई थी। उसकी सहेली उसे रात करीब आठ बजे आधे रास्ते तक छोड़कर चली गई। एक सुनसान गली में अंधेरे में खड़ा एक युवक युवती का हाथ पकड़ कर उसे वहां एक खंडहर भवन के अंदर ले गया।

युवती ने बताया कि उक्त युवक ने उसका मुंह बंद कर दिया और हाथ-पैर रस्सी से बांध दिए। इसके बाद दो और युवक वहां कार लेकर आए और उसे कार की डिक्की में डालकर खेतों में ले गए। वहां युवकों ने अपने एक और साथी को बुला लिया और उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। दो दिन तक युवकों ने उसके हाथ- पैर बांध कर बंधक बनाए रखा।

दिन के समय उसके पास एक युवक रहता था। वहीं रात को उसे नशीला पेय पिलाकर बेहोश कर दिया जाता था और चारों युवक सामूहिक दुष्कर्म करते थे। दो दिन बाद जब उसकी हालत बिगड़ी तो आरोपित उसे कार की डिक्की में डालकर गांव में बेहोशी की हालत में फेंककर फरार हो गए। उधर, दो दिन तक पुलिस युवती को तलाशती रही।

दिन के समय गांव में रहते थे आरोपित

गांव वालों की आंखों में धूल झोंकने के लिए उक्त युवक अपने एक दोस्त को दिन के समय युवती के पास छोड़ आते। उसके बाद वह गांव में खुलेआम घूमते रहते, ताकि उन पर शक न हो।

एक युवक को युवती ने पहचाना

भिवानी सदर के एसएचओ देशराज दहिया का कहना है कि पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ अपहरण व दुष्कर्म का केस दर्ज किया है। पुलिस ने आरोपितों की धर पकड़ के लिए गांव में दबिश देकर चार युवकों को पकड़ा, जिसमें से एक युवक को युवती ने पहचान लिया है, जिससे पुलिस पूछताछ कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अनाथालय में चौकीदार ने किया मूक-बधिर महिला का रेप, गर्भपात करवाकर जलाया भ्रूण

ग्वालियर से हाल ही में एक ऐसा मामला