बड़ीखबर: आतंकी फंडिंग मामले में हिज्बुल चीफ सलाउद्दीन का बेटा हुआ गिरफ्तार

- in कश्मीर

श्रीनगर । आतंकी फंडिंग के मामले में आज गुरुवार सुबह श्रीनगर से हिज्बुल मुजाहिद्दीन के चीफ सैयद सलाउद्दीन के बेटे सैयद शकील अहमद को उसके घर से गिरफ्तार किया। उन्हें कई चौंकाने वाले दस्तावेज मिले इसके आधार पर सैयद शकील अहमद को गिरफ्तार किया गया।

बताया जा रहा है कि उनके पास मनी ट्रांजेक्शन और विदेशों में मौजूद सैयद सलाउद्दीन के बेटों के अकाउंट के बारे में विस्तृत जानकारी है।

बता दें कि इससे पहले भी एजेंसी सलाउद्दीन के एक बेटे को गिरफ्तार कर चुकी है। पिछले साल एनआईए ने सैयद शाहिद को मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार किया था। तभी से वह दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है।

एनआईए ने सलाउद्दीन के बेटे को श्रीनगर के रामबाग इलाके से गिरफ्तार किया। पिछले साल ही आतंकी संगठनों को फंडिंग करने के आरोप में एजेंसी सलाउद्दीन के सैयद शाहिद को गिरफ्तार कर चुकी है। एजेंसी की ओर से उसपर चार्जशीट भी दाखिल की जा चुकी है।

सलाहुद्दीन का बड़ा बेटा सैयद शकील अहमद श्रीनगर के शेरे कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस में मेडिकल असिस्टेंट है। दूसरा बेटा जावेद युसूफ बडगाम में ही जोनल एजुकेशन ऑफिस में कंप्यूटर ऑपरेटर है। तीसरा बेटा शाहिद युसूफ श्रीनगर में कृषि विभाग में काम करता था। चौथा बेटा वाहिद युसूफ श्रीनगर के शेरे कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस में डॉक्टर है। पांचवां बेटा सैयद मुईद कंप्यूटर इंजीनियर है।

इससे पहले भी अक्‍टूबर 2017 में कश्मीर के आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के चीफ सैयद सलाहुद्दीन के बेटे सैयद शाहिद यूसुफ को एजेंसी ने गिरफ्तार किया था। एजेंसी ने सैयद शाहिद युसूफ को साल 2011 के एक आतंकी फंडिंग मामले में गिरफ्तार किया था। सलाहुद्दीन के आदेश पर सीरिया में मौजूद गुलाम मोहम्मद बट नाम के संदिग्ध ने यूसुफ को कुछ पैसे भेजे थे। यह पैसा साल 2011 से 2014 के बीच भेजा गया था, जिसको कश्मीर घाटी के आतंकी गतिविधियों में इस्तेमाल किया गया।

सलाहुद्दीन ने दो शादी की है और शाहिद यूसुफ उसकी पहली पत्नी का बेटा है। हिज्बुल चीफ अपनी दूसरी पत्नी के साथ पाकिस्तान में रहता है। 2017 मे यूनाइटेड नेशंस ने सलाहुद्दीन को वैश्विक आतंकी घोषित किया था।

सलाहुद्दीन आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का चीफ है। वह लगातार भारत के खिलाफ जहर उगलता रहता है। वह कश्मीर समेत पूरे देश में कई बार हमले करा चुका है। अप्रैल 2014 में जम्मू-कश्मीर में हुए बम धमाकों की जिम्मेदारी हिजबुल मुजाहिद्दीन ने ली इसमें 17 लोग घायल हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पाक ने BSF जवान के शरीर से की बर्बरता, बॉर्डर पर पहली बार ऐसी घटना

जम्मू। पाकिस्तान ने फिर कायरतापूर्ण कार्रवाई को अंजाम दिया