उत्तर भारत में बढ़ी हुई गरमी के बीच 30 अप्रैल तक आंधी के साथ बारिश का अनुमान

- in राष्ट्रीय

उत्तर भारत में बढ़ी हुई गरमी के बीच एक वेस्टर्न डिस्टरबेंस उत्तर पश्चिम हिमालय में दस्तक दे रहा है. इस वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते उत्तर भारत के साथ- साथ पूर्वी भारत में मौसम करवट लेने जा रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक, वेस्टर्न डिस्टरबेंस की वजह से जम्मू- कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कई जगहों पर अगले 48 घंटों में हल्की बारिश की संभावना है. वेस्टर्न डिस्टरबेंस की आमद और मैदानी इलाकों में चढ़े हुए तापमान के चलते पंजब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और बिहार में गरज के साथ आंधी-बारिश की आशंका बन गई है.

मौसम विभाग के डायरेक्टर कुलदीप श्रीवास्तव के मुताबिक, इस समय उत्तर भरत में कई इलाकों में खासतौर पर पंजाब, हिमाचल, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में तापमान सामान्य़ के मुकाबले 3 से लेकर 5 डिग्री सेल्सियस ऊपर बने हुए हैं. बढ़े हुए तापमानों के बीच वेस्टर्न डिस्टरबेंस की दस्तक से मैदानी इलाकों में हवाओं में सुगबुगाहट बढ़ जाएगी.

जहां एक तरफ वेस्टर्न डिस्टरबेंस की वजह से अगले 24 घंटों में तापमान बढ़ेंगे. वहीं उसके बाद कई जगहों पर धूलभरी तेज हवाओं के साथ गड़गड़ाहट के साथ बारिश की संभावना भी बढ़ जाएगी. मौसम विभाग का अनुमान है कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में अगले 24 से 72 घंटों के बीच कई जगहों पर धूल भरी आंधी चल सकती है.

वहीं पूर्वी भारत और पूर्वोत्तर भारत में दो- दो साइक्लोनिक सर्कुलेशन मौजूद हैं. वेस्टर्न डिस्टरबेंस से वायुमंडल में होने वाली खलबली से इन दोनों वेदर सिस्टम्स से पूर्वी और पूर्वोत्तर भारत में कई जगहों पर तेज हवाओं के साथ बारिश की संभावना बन जाएगी. इसके चलते पश्चिम बंगाल, सिक्किम और पूर्वोत्तर भारत में शुक्रवार रात से लेकर 30 अप्रैल तक बादलों की आवाजाही के बीच कई इलाकों में अच्छी बारिश होने की संभावना है.

कर्नाटक में वोट देना मेरा लोकतांत्रिक अधिकार: विजय माल्या

ऐसा अनुमान है कि जम्मू से लेकर पीर पंजाल के पहाड़ों में बादलों की आवाजाही के बीच मौसम बदल जाएगा. कई जगहों पर बारिश की संभावना के बीच यहां पर अगले दो दिनों तक तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी. मौसम विभाग के डायरेक्टर चरण सिंह के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश में लाहौल स्पीति, कुल्लू मनाली के साथ साथ शिमला और किन्नौर में बादलों की आवाजाही के बीच कई इलाकों में रिमझिम फुहारों 27 तारीख की रात से शुरू होकर 29 अप्रैल की सुबह तक जारी रहने की संभावना है.

उत्तराखंड की बात करें तो यहां पर गंगोत्री, यमुनोत्री, बद्रीनाथ और कैदारनाथ जैसे ऊंचाई वाले इलाकों में मौसम करवट ले लेगा. लेकिन इन सभी इलाकों में बादलों की आवाजाही के बीच हल्की बारिश की ही संभावना बताई जा रही है. इन स्थितियों में उत्तर भारत और पूर्वी भारत के तमाम इलाकों में 30 अप्रैल तक हीट वेव से फिलहाल राहत मिली रहेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

इमरान खान का मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- ‘भारत के अहंकारी और नकारात्‍मक जवाब से निराश हूं’

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को नरेंद्र