बेहद कम उम्र में खास मुकाम हासिल करने वाले Facebook के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग आज 36 साल के हो गए

Facebook के संस्थापक Mark Zuckerberg का आज जन्मदिन है। 14 मई 1984 को पैदा हुए Mark Zuckerberg आज 36 साल के हो गए हैं। दुनियाभर में Facebook ने अपनी एक अलग और खास पहचान बनाई है।

Facebook के संस्थापक ने भी बेहद कम उम्र में ही खास मुकाम हाासिल किया है। मार्क का पूरा नाम एलिएट जुकेरबर्ग है। इसके अलावा रिश्तेदार और दोस्त मार्क जुकेरबर्ग को प्यार से मार्क बुलाते हैं।

जबकि कंपनी के साथी Zuck निक नेम का इस्तेमाल करते हैं। आगे हम आपको ऐसी कई खास और दिलचस्प बातों के बारे में बताने जा रहे हैं। 

Wall Street General की रिपोर्ट के मुताबिक मार्कजुकेरबर्ग को उनके माता-पिता बचपन में प्रिंसली (Princely) निक नेम से बुलाते थे। जब मार्क जुकरबर्ग Howard University में थे, उस वक्त उनके दोस्ते उन्हें Slayer निक नेम से पुकारते थे।

हावर्ड में Mark Zuckerberg के दोस्त रहे डेविस ओब्रायन ने इसका खुलासा किया। जुकेरबर्ग के जन्मदिन पर जानें उनसे जुड़ी दिलचस्प बातें मार्क के पिता का नाम एडवर्ड जुकरबर्ग और माता का नाम करेन केंपर है।

मार्क के पिता डेंटिस्ट और माता साइकेट्रिस्ट हैं। वहीं, मार्क अपने परिवार में अकेले लड़के हैं और उनकी तीन बड़ी बहने हैं, जिनका नाम रेंडी, डोना और अरील्ले हैं।

The New Yorker के मुताबिक जुकररर्ग को रेट-ग्रीन कलर ब्लाइंडनेस है। इसकी वजह से उन्हें ब्लू कलर सबसे अच्छी तरह से दिखता है।

यह वजह है कि फेसबुक की वेबसाइट और मोबाइल ऐप पर ब्लू कलर का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया गया है। उन्होंने एक मैगजीन को दिए इंटरव्यू में कहा कि Blue is the richest color for me.

Mark Zuckerberg के मुताबिक उनके लिए पैसा ही सबकुछ नहीं है। इसकी एक झलक उस वक्त देखने को मिली, जब फेसबुक को 1 बिलियन डॉलर में खरीदने का ऑफर मिला।

लेकिन जुकरबर्ग ने उस ऑफर को ठुकरा दिया था। यह ऑफर Yahoo! के सीईओ Terry Semel की ओर से मिला था। Terry Semel ने कहा था कि उन्होंने ऐसा इंसान कभी नहीं देखा, जो 1 बिलियन डॉलर के ऑफर को ठुकरा दे।

जुकेरबर्ग ने साल 2004 में कहा था कि फेसबुक उनका ब्रेन चाइल्ड है, जिसे वो दौड़ते हुए और आगे बढ़ते हुए देखना चाहते हैं। ऐसे में फेसबुक की एवज में उनके लिए पैसा कोई महत्व नहीं रखता है।

फेसबुक संस्थापक जुकेरबर्ग आज के वक्त में दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों की सूची में शामिल हैं। फोर्ब्स के मुताबिक उनकी कुल आय करीब 67.3 बिलियन डॉलर है।

जुकेरबर्ग को कार, कपड़ों और यात्रा करने का ज्यादा शौक नहीं है और न ही वो रियल एस्टेट के कारोबार में दिलचस्पी रखते हैं। बिजनेस इनसाइडर के मुताबिक जुकेरबर्ग ने साल 2018 में हर घंटे करीब 1.7 मिलियन डॉलर की कमाई की।

Social Security Administration के मुताबिक अमेरिका का एक औसतन व्यक्ति ताउम्र जितनी कमाई करता है, उतनी जुकरबर्ग एक और डेढ़ घंटे में कमाई (2.2 मिलियन डॉलर) कर लेते हैं। Mark Zuckerberg की कुल कमाई जॉर्डन, बारबाडोस जैसे देशों की जीडीपी से ज्यादा है।  2010 में मार्क जुकरबर्ग को टाइम मैग्जीन ने पर्सन ऑफ द ईयर और फोर्ब्स ने दुनिया के शक्तिशाली लोगों की लिस्ट में शामिल किया था।

Mark Zuckerberg जिस वक्त 12 साल के थे, उस वक्त ही उनका झुकाव कंप्यूटर की तरह शिफ्ट हो गया था। यही वजह थी कि जुकेरबर्ग के पिता ने उनके लिए घर पर ही कंप्यूटर टीचर लगा दिया था और उनके पिता ने उन्हें C++ प्रोग्रामिंग डेवलपमेंट किताब गिफ्ट की दी।

यह जुकेरबकर्ग का जुनून ही था, जिससे उन्होंने 12 साल की उम्र में ही Atari Basic का इस्तेमाल करके एक मैसेजिंग प्रोग्राम विकसित किया, जिसका नाम Zucknet रखा था।

इसका इस्तेमाल उनके पिता अपने डेंटल ऑफिस में करते थे। साथ ही उनका परिवार आपस में बातचीत के लिए घर पर इसका इस्तेमाल करती थी। 

जकरबर्ग ने शुरुआत में फेसेसमास नाम से एक वेबसाइट बनाई थी, जिसके यूजर्स की संख्या जल्द ही करीब 10 लाख तक पहुंच गई। इस साइट में दो स्टूडेंट की फोटो की एक साथ तुलना की जा सकती और यह तय किया जा सकता था कि कौन ज्यादा हॉट है।

इस वेबसाइट से स्कूल में काफी विवाद हो गया था। इसके बाद Mark Zuckerberg ने 2004 में अपने दोस्तों के साथ मिलकर द फेसबुक बनाई।

इसकी लोकप्रियता का आलम यह रहा कि साल 2004 के आखिर तक तरह फेसबुक के 1 मिलियन यूजर्स हो गए। मौजूदा वक्त में फेसबुक यूजर्स की संख्या 2.6 बिलियन से ज्यादा है। 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button