कुशीनगर में पीएम मोदी के दौरे से पहले सीएम योगी ने लिया जायजा, अव्यस्था देख नाराजगी की जाहिर

गोरखपुर, कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का 20 अक्टूबर को उद्घाटन करने आ रहे पीएम नरेंद्र मोदी श्रीलंका के 125 भिक्षुओं व डेलीगेट्स के साथ महापरिनिर्वाण बुद्ध मंदिर का दर्शन व पूजन वंदन भी करेंगे। कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने मुख्यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ एयरपोर्ट से सड़क मार्ग होकर बुद्ध मंदिर पहुंचे। उन्होंने तथागत की लेटी प्रतिमा पर चीवर चढ़ा कर पूजन वंदन किया। सीएम ने स्तूप की परिक्रमा करते हुए खंडहरों में जल भराव देखा और इस संबंध में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के अधिकारी संरक्षण सहायक शादाब खान से जानकारी ली। इस दौरान स्तूप के पास खंडहरों में जलभराव पर सीएम ने नाराजगी जाहिर की। उन्‍होंने जलभराव खत्‍म कराने का अध‍िकार‍ियों को न‍िर्देश द‍िया।

सीएम ने पीएम के पांडाल, मंच, डी की भी जानकारी ली

खान ने बताया कि पानी निकालने का कार्य चल रहा है और पीएम के कार्यक्रम के पूर्व जल निकासी का कार्य पूर्ण हो जाएगा। बुद्ध मंदिर से निकलने के बाद इंटरप्रिटेशन सेंटर परिसर के रास्ते पर लगने वाले पांडाल, मंच, डी आदि की जानकारी ली। इंटरप्रिटेशन सेंटर से होकर ही पीएम मोदी बुद्ध मंदिर जाएंगे व लौटेंगे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक सुझाव दिया। इसके बाद मुख्यमंत्री का काफिला निमार्णाधीन सभा स्थल बरवा फार्म के लिए रवाना हो गया। इस अवसर पर भाजपा के क्षेत्रीय डा. धर्मेंद्र सिंह, सांसद विजय कुमार दूबे, विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी, मंडलायुक्त रवि कुमार एनजी, डीएम एस राजलिंगम, एसपी सचिंद्र पटेल, सीडीओ अनुज मलिक, एडीएम विंध्यवासिनी राय, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट पूर्ण बोरा, क्षेत्रीय पर्यटक अधिकारी रविंद्र कुमार, भंते डा. नंदरतन, भंते अशोक आदि उपस्थित रहे।

पीएम के सभास्थल का किया निरीक्षण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री के जनसभा स्थल बरवा फार्म का निरीक्षण किया। बनाए जा रहे जर्मन हैंगर, बैठने की व्यवस्था, सुरक्षा व्यवस्था आदि की जानकारी ली। अब तक तैयारी पर संतोष जताते हुए व्यवस्था को व्यापक स्वरूप देने का निर्देश दिए।

सीएम ने जिलाध्यक्ष को फटकारा, कहा यहां बरात न‍िकलनी है क्‍या

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर के जिलाध्यक्ष प्रेमचंद मिश्र को कड़ी फटकार लगाई। एयरपोर्ट पर हेलीकाप्टर से उतरने के बाद मुख्यमंत्री प्रशासनिक अधिकारी व एयरपोर्ट अथारिटी के अधिकारियों के साथ बैठक के लिए वीआइपी गेस्ट रूम में गए। कम कुर्सी होने के कारण कई अन्य विशिष्ट लोगों को सुरक्षा दस्ता ने बाहर ही रोक दिया। उनमें से कुछ को अंदर लाने के लिए जिलाध्यक्ष ने कहा तो मुख्यमंत्री बोले कि यहां बरात निकली है क्या। सीएम का तेवर देखकर जिलाध्यक्ष सहम गए।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 + nine =

Back to top button