जानिए… क्या होता है बॉल टेंपरिंग?

- in खेल

क्रिकेट को भद्रजनों का खेल कहा जाता है, लेकिन कई बार ऐसी घटनाएं भी इस खेल के मैदान पर हो जाती है, जो इसे शर्मसार कर देती है. आस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच हाल ही में समाप्त हुए केप टाउन टेस्ट के दौरान एक ऐसा ही वाकया हुआ, इस शर्मनाक करतूत के कारण आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम की पूरी दुनिया में करकरी हो रही है. इस गुनाह के कारण आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक की कुर्सी पर काबिज आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ को अपनी कप्तानी से  हाथ धोना पड़ा.

आईसीसी इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल के नियम बुक के अनुसार बॉल टेंपरिंग वो काम है, जिसके द्वारा कोई भी गेंदबाज या  मैदान में मौजूद फिल्डर गेंद की प्रकृति के साथ छेड़छाड़ करता है. इसमें छेड़छाड़ के लिए फिल्डर बॉल जेल, लिप बाम, टेप, पॉलिस जैसी किसी भी चीज का प्रयोग कर गेंद की सीम को प्रभावित करने की कोशिश करता है. ऐसा करने से गेंद की सामान्य उछाल, स्विंग, गति इत्यादि में बदलाव होता है. जिससे नए बल्लेबाज के लिए खेल पाना मुश्किल होता है.

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के बाद राजस्थान रॉयल्स की कप्तानी से भी स्मिथ की छुट्टी, रहाणे होंगे कप्तान

लॉ ऑफ क्रिकेट नामक क़िताब में नियम 42 में बॉल टेंपरिंग का जिक्र किया गया है. लॉ 42 के सबसेक्शन में इस अपराध के साथ-साथ इसकी सजा का भी वर्णन है. नियमों के मुताबिक यदि मैदान में मौजूद अंपायर को बॉल टेंपरिंग का आभाष हो जाए तो वह फिल्डिंग कर रहे कप्तान से इसकी शिकायत करता है. साथ ही विस्तृत ब्योरा मैच रेफरी को देना होता है. जो इस मामले में खिलाड़ी को निलंबित अथवा प्रतिबंधित कर सकता है.

You may also like

इलाहाबाद की टीम ने जीती ओवरआल चैंपियनशिप ट्राफी

52वीं यूपी स्टेट जूनियर (अंडर-14 व अंडर-16) एथलेटिक्स