गिरफ्तार अपराधियों की हैवानियत सुनकर पूछताछ कर रहे पुलिसकर्मियों का भी कांप उठा कलेजा…

पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान जिन कुख्यात बदमाशों को पकड़ा, उनकी हैवानियत सुनकर पूछताछ कर रहे पुलिसकर्मियों का भी कलेजा कांप गया। थरवई, फाफामऊ और मांडा क्षेत्र में महिलाओं को मौत के घाट उतारने के बाद इन अपराधियों ने शवों के साथ दुष्कर्म किया था। इस दौरान वह शराब के नशे में धुत रहते थे।

नशे में रहते थे धुत, कांप उठा पुलिसवालों का कलेजा भी

मुठभेड़ में घायल तीन बदमाशों को स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल में भर्ती कराने के बाद गिरफ्तार आकाश खरवार, भीम कुमार गौतम, मोनू कुमार और संगीता से पूछताछ शुरू हुई। आकाश, भीम और मोनू ने बताया कि उनके गैंग में दो महिलाओं को मिलाकर 13 सदस्य हैं। महिलाएं साथ में रहकर रेकी का काम करती थीं, जबकि अन्य सभी घटनाओं को अंजाम देते थे। छह वारदातों को कबूल करते हुए बताया कि थरवई क्षेत्र में पांच लोगों की हत्या के बाद परिवार की बहू और बेटी के शव के साथ दुष्कर्म किया गया था। फाफामऊ क्षेत्र में चार लोगों की हत्या कर 16 वर्षीया लड़की के शव के साथ दुष्कर्म किया गया था। इसी प्रकार मांडा क्षेत्र में तीन की हत्या की गई थी। इसमें भी 16 वर्षीया लड़की शामिल थी और उसके साथ भी दुष्कर्म किया गया था। इनकी यह हैवानियत सुनकर पुलिसकर्मी सन्न रह गए। यह भी बताया कि कहीं भी वारदात करने से पहले वह जमकर शराब पीते थे।

लूट का रहता था इरादा, जागने पर मार देते थे

गिरफ्तार बदमाशों ने बताया कि उनका घर में लूट का इरादा रहता था। लेकिन यह भी तय रहता था कि उस दौरान किसी के जागने पर उसे मार देना है। जिन घरों में लोग लूटपाट करते समय जगे, उन्होंने सभी को मार डाला। थरवई में पांच वर्ष की लड़की ने कोई हरकत नहीं की थी, इसलिए उस ओर उनका ध्यान ही नहीं गया था, अन्यथा उसे भी मार डालते।

7700 रुपये ही मिले थे, बौखलाहट में लगा दी थी आग

फाफामऊ क्षेत्र में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या के बाद बक्से से 5600 रुपये मिले थे। जबकि थरवई क्षेत्र में पांच लोगों को मार डालने के बाद 2100 रुपये हाथ लगे थे। थरवई में इतने कम रुपये मिलने पर गुस्से में आकर कमरे में आग लगा दिया था। ताकि सभी के शव इसमें जल जाएं।

इन घटनाओं का हुआ राजफाश

-22 अप्रैल 2022 को थरवई क्षेत्र में एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या।

-21 नवंबर 21 को फाफामऊ क्षेत्र में एक परिवार के चार लोगों की हत्या।

-जनवरी 2020 को सोरांव के यूसुफपुर में एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या।

-मई 2020 को मांडा क्षेत्र में एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या।

-जुलाई 2020 को सोरांव के चांदपुर मनी का पूरा में दंपती की हत्या।

-सितंबर 2021 को नवाबगंज के जगदीशपुर माली गांव में मां-बेटी की हत्या।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twelve + 17 =

Back to top button