कानपुर शहर में कोरोना वायरस की तीसरी लहर की संभावना के बीच 35 नए संक्रमित मिलने से स्वास्थ्य महकमे में मची अफरा तफरी…

कोरोना वायरस की तीसरी लहर की संभावना के बीच बुधवार को 35 नए संक्रमित मिलने से स्वास्थ्य महकमे में अफरा तफरी मच गई है। अचानक कोरोना के मामले बढ़ने पर स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन सतर्क हो गया है। मुख्यमंत्री के शहर आगमन के दिन एक साथ कोरोना के केस सामने आने पर अफसरों के भी पसीने आ गए हैं। जीएसवीएम मेडिकल कालेज की कोविड-19 लैब की जांच रिपोर्ट में बुधवार को 35 कोरोना संक्रमित मिलने की पुष्टि हुई है। इसमें से 30 शहरी क्षेत्र और पांच संक्रमित बाहर के हैं। वहीं सीएम से मिलने वालों के लिए बनी सूची में शामिल लोगों की जांच में भी पांच संक्रमित मिले हैं।

कानपुर शहर में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के थमने के बाद वैक्सीनेशन को लेकर तेजी दिखाई जा रही है। वहीं संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए पहले से तैयारी की जा रही है। इसी कड़ी में सैंपलिंग में तेजी की गई है, बुधवार को सैंपल की जांच रिपोर्ट जीएसवीएम मेडिकल कालेज के माइक्रोबायोलाजी विभाग की कोविड-19 लैब से आई तो अधिकारियों में खलबली मच गई। दूसरी लहर थमने के कई दिनों में अचानक एक दिन में 35 संक्रमित मिलने से स्वास्थ्य महकता सतर्क हो गया है। इसकी जानकारी के बाद सीएमओ डाॅ. नैपाल सिंह ने सुबह से स्वास्थ्य अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सक्रिय कर दिया है और कोरोना से निपटने के लिए बनाई कार्य योजना पर अमल करने की तकीद की है। सुबह से स्वास्थ्य विभाग की रैपिड रिस्पांस टीम (आरआरटी) क्षेत्र में सक्रिय हैं और सैंपलिंग कर रही हैं। सीएमओं ने संक्रमितों के संपर्क में आए 25-25 व्यक्तियों के सैंपलिंग करने के लिए सर्विलांस टीमें भी लगाई हैं।

कांटेक्ट ट्रेसिंग पर खास फोकस

स्वास्थ्य विभाग का खास फोकस कांटेक्ट ट्रेसिंग पर है। इसके लिए सर्विलांस टीमें लगाई गई हैं। इनकी मानीटरिंग खुद ही सीएमओ कर रहे हैं। एक-एक संक्रमित की पूरी हिस्ट्री पता करने का निर्देश दिया गया है। ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण की चेन को थोड़ा जा सके।

मुख्यमंत्री से मिलने वालों की सूची में मिले पांच संक्रमित

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने वालों की सूची बनाई गई थी, जिसमें शामिल लोगों की कोरोना आरटीपीसीआर जांच कराई गई थी। इसमें पांच लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

10 हजार सैंपलिंग का लक्ष्य

अचानक कोरोना वायरस के केस बढ़ने से हरकत में आए जिलाधिकारी आलोक तिवारी ने सीएमओ को सैंपलिंग बढ़ाने का निर्देश दिया है। इस पर सीएमओ ने सैंपलिंग के नोडल अफसर को बुधवार से 10 हजार सैंपलिंग कराने का आदेश दिया है। सीएमओ डॉ. नैपाल सिंह ने बताया कि मेडिकल कालेज की कोविड-19 लैब की जांच रिपोर्ट में 35 संक्रमित मिले हैं। उनमें से 30 जिले के शहरी क्षेत्र के हैं।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 1 =

Back to top button