जनधन के खाते 31.45 करोड़, जमा राशि 80 हजार करोड़ पार

जानकारी के मुताबिक, अलीगढ़ जिले के अतरौली थाना क्षेत्र में एक किरथल गांव है. गांव में रहने वाले 53 वर्षीय रामकिशोर का चंद रोज पहले निधन हो गया. उनकी मौत से परिवार ही नहीं गांव के लोगों का भी रो-रोकर बुरा हाल था. मौत की सूचना पर उनके सगे-संबंधी और नजदीकी रिश्तेदार भी गांव पहुंच गए. नाते रिश्तेदारों को गांव पहुंचते देख परिवार व ग्रामीणों ने अंतिम संस्कार की तैयारी करनी शुरू कर दी. इस दौरान जब शव को नहलाने ले जाया जाने लगा तो मरने वाले ग्रामीण के शरीर में कुछ हलचल हुई. इस पर वहां मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया. इसके बाद रामकिशोर की आंखे खुल गईं और उसने परिवार वालों को नाम लेकर पुकारना शुरू कर दिया. साथ ही उन्‍होंने घरवालों को बताया कि वे लोग उनकी चिंता न करें, ऊपरवाले उन्‍हें गलती से उठाकर ले गए थे. उन्‍होंने बताया कि अभी उनका जाने का समय नहीं हुआ था, इसलिए उन्‍हें वापस भेज दिया. इतना सुनते ही परिवार के साथ गांव वालों की खुशी की कोई ठिकाना नहीं रहा. उधर, रामकिशोर के दोबारा से जिंदा होने की सूचना मिलते ही गांव ही नहीं आस-पास के लोग भी उनसे मुलाकात करने पहुंचे.