‘वायु प्रदूषण’ से मुक्त होगा भारत

- in राष्ट्रीय

जापान के राजदूत केंजी हिरामत्सु ने केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से मुलाकात कर भारत में हो रहे प्रदूषण पर अपनी चिंता व्यक्त की. साथ ही जापान,  भारत को जापान की तर्ज पर एक तकनिकी के माध्यम से इस प्रदूषण से उभारने में मदद करेगा. जापान के भारत स्तिथ राजदूत केंजी हिरामत्सु ने हाल ही में यह आश्वासन दिया , गुरुवार शाम को राजदूत ने डॉ. हर्षवर्धन से मुलाकात कर अपनी तकनीक के बारे में चर्चा की. 

हिरामत्सु और हर्षवर्धन की बैठक के दौरान, हिरामत्सु ने बताया कि 60 और 70  दशक में कुछ ऐसी ही समस्याओं का सामना जापान को भी करना पड़ा था. जिसके चलते तोक्यो ने अपनी ‘ब्लू स्काई’ तकनिकी की पहल की. आपको बता दें, ‘ब्लू स्काई’ के तहत ही जापान, भारत को सहयोग देने के लिए राजी हुआ है. साथ ही ‘ब्लू स्काई’ से होने वाले फायदों के बारे में विस्तार से चर्चा की.

पीएम मोदी और ईरानी राष्ट्रपति रूहानी के बीच कई मुद्दों पर चर्चा जारी

डॉ. हर्षवर्धन ने जापान की पहल को सार्थक बताते हुए हिरामत्सु को दिल्ली में जारी क्लीन एयर अभियान के शुरुआती सकारात्मक परिणामों से अवगत कराया. उन्होंने बताया कि इस अभियान के विश्लेषण के बाद राष्ट्रीय स्तर पर ‘स्वच्छ हवा’ अभियान चलाया जाएगा. इस बीच फिजी के अटार्नी जनरल और आर्थिक मामलों के मंत्री अय्याज सैयद खयुम ने भी डॉ. हर्षवर्धन से मुलाकात की. दोनों नेताओं ने जलवायु परिवर्तन को वैश्विक खतरा मानते हुए साल 2020 से पहले पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कारगर कदम उठाने की जरूरत पर बल दिया.

You may also like

बीजेपी में शामिल होना चाहते हैं मक्का मस्जिद मामले में फैसला सुनाने वाले जज

मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में फैसला सुनाने वाले