फिलीपींस के राष्ट्रपति के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले वकील ने बताया जान का खतरा

फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो ड्यूटेर्टेस के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले वकील जूड साबियो ने अपनी जान को खतरा बताया है। हालांकि, उनका कहना है कि नशीली दवाओं के खिलाफ अभियान के तहत मारे जा रहे लोगों की ओर अंतरराष्ट्रीय आपराधिक अदालत का ध्यान आकर्षित कराना उनका कर्तव्य था।

साबियो (51) ने पिछले साल अप्रैल में हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय (आईसीसी) में एक याचिका दाखिल की थी। इसमें उन्होंने आरोप लगाया है कि राष्ट्रपति द्वारा नशीली दवाओं के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत करीब 8 हजार लोगों की गैरकानूनी रूप से हत्या की जा चुकी है।

नाइजीरिया के मछली बाजार में आत्मघाती हमला, 22 की मौत

याचिका में राष्ट्रपति को गिरफ्तार कर हेग लाए जाने की मांग की गई है। उनकी इस याचिका के बाद आईसीसी के अभियोजक एफ. बेंसॉडा ने प्रारंभिक जांच भी शुरू कर दी है। जबकि साबियो राष्ट्रपति समर्थकों के निशाने पर आ गए हैं। सोशल मीडिया पर उन्हें जान से मारने की धमकी भी मिल रही है। गौरतलब है नशीली दवाओं का खात्मा करने का वादा करके ही 2016 के चुनावों में रोड्रिगो ड्यूटेर्टेस ने भारी जीत हासिल की थी।

You may also like

China के सबसे ‘शक्तिशाली’ व्‍यक्ति की चेतावनी, ट्रेड वार से होगी सबसे ज्‍यादा बर्बादी

चीन के सबसे अमीर और शक्तिशाली व्‍यक्ति जैक मा ने