दो दिनों तक हुई मूसलाधार बारिश और आपदा के बाद नैनीताल में पसरा सन्नाटा, कारोबारी हुए निराश…

दो दिनों तक हुई मूसलाधार बारिश और आपदा का सीधा असर शहर के पर्यटन कारोबार देखने को मिल रहा है। शहर के तीनों संपर्क मार्ग खुलने के बाद शहर में फंसे अधिकांश पर्यटक अपने घरों को लौट गए है। साथ ही आपदा के असर देख पर्यटक नैनीताल आने से कतरा रहे हैं। जिससे सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। कारोबार ठप होने से कारोबारी भी खासे निराश है। बता दें कि मौसम विभाग द्वारा दो दिनों तक भारी बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया था। दो दिनों तक मूसलाधार बारिश ने सब कुछ तहस-नहस करके रख दिया। शहर से जुड़े संपर्क मार्ग बंद होने के कारण करीब 40 घंटे तक शहर का संपर्क बाहरी क्षेत्रों से कटा रहा। बारिश रुकने के बाद अगले दिन मार्गो से मलबा हटाकर किसी तरह यातायात सुचारू किया तो तीन दिन से शहर में फंसे पर्यटक भी अपने घरों को लौटने लगे।

वही झील का पानी ओवरफ्लो होने और आपदा के कई वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो जाने के कारण पर्यटक नैनीताल लाने से भी कतरा रहे हैं। जिस कारण एक बार फिर शहर का पर्यटन कारोबार चौपट हो गया है। गुरुवार को शहर के माल रोड, बड़ा बाजार, पंत पार्क, भोटिया मार्केट समेत तमाम क्षेत्रों में सन्नाटा पसरा रहा। शहर की डीएसए पार्किंग भी खाली पड़ी है। नौकाओं से पटी रहने वाली नैनी झील में भी गिने-चुने लोग ही नौकायन करते दिखे।

आपदा के चलते हैं शहर में पर्यटकों की आमद कम होने से पर्यटन कारोबारियों में भी खासी निराशा है। कारोबारियों का कहना है कि कोविड के बाद किसी तरह कारोबार पटरी पर लौट गया था। मगर आपदा ने फिर सब कुछ चौपट कर के रख दिया है। अब कारोबारी दीपावली वीकेंड पर ही कुछ भीड़ भाड़ होने की उम्मीद जता रहे हैं।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button