गोरखपुर विवि में गणित के बाद अब समाजशास्त्र का पेपर लीक, हुई परीक्षा रद

गोरखपुर। पंडि़त दीनदयाल विश्वविद्यालय गोरखपुर में दो दिन में दूसरी बार पेपर लीक होने से सनसनी फैल गई। आज गोरखपुर विश्वविद्यालय में बीए सेकेंड ईयर की समाजशास्त्र की परीक्षा का पेपर सोशल मीडिया पर लीक हो गया। इसके कारण परीक्षा को रद कर दिया गया है।गोरखपुर विवि में गणित के बाद अब समाजशास्त्र का पेपर लीक, हुई परीक्षा रद

पंडित दीनदयाल उपाध्याय गोराखपुर विश्वविद्यालय की परीक्षाओं की शुचिता सवालों के घेरे में है। कल बीए/बीएससी भाग एक गणित का प्रश्नपत्र आउट होने के बाद अब बीए भाग दो समाजशास्त्र प्रथम प्रश्न पत्र का पर्चा भी परीक्षा से पहले ही परीक्षार्थियों के पास पहुंच गया। इस घटना के बाद से विश्वविद्यालय प्रशासन ने परीक्षा शुरू होने के करीब छह घंटे पहले परीक्षा रद करने का निर्णय लिया। शहर में 20 घंटों के भीतर ताबड़तोड़ दो प्रश्न पत्र आउट हो जाने से पूरे विश्वविद्यालय तंत्र में काफी खलबली है। वहीं परीक्षार्थी विश्वविद्यालय की व्यवस्था को कोस रहे हैं। बीए भाग दो समाजशास्त्र की परीक्षा आज दोपहर दो बजे से होनी थी। रविवार देर रात बीए/बीएससी भाग एक गणित के पेपर आउट होने से उपजा हंगामा अभी थमा भी न था, की एक और पर्चा लोगों के हाथ समय से पहले लग गया।

आनन-फानन में कुलपति ने इस प्रश्नपत्र की परीक्षा निरस्त करने का आदेश जारी कर दिया। हालांकि अभी तक विश्वविद्यालय के जिम्मेदार किसी भी प्रश्नपत्र जे लीक होने की घटना से इनकार ही कर रहे हैं। इसके साथ ही जांच में दोषी पाये जाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात विश्वविद्यालय प्रशासन ने कही है। लगातार पेपर लीक होने की अफवाह से परीक्षा रद हो जाने से छात्रों में आक्रोश है।

जांच कमेटी गठित

एक के बाद एक लीक हो रहे प्रश्नपत्रों की सच्चाई जानने के लिए कुलपति ने प्रतिकुलपति प्रो एस के दीक्षित की अगुआई में एक जांच कमेंटी गठित कर दी है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस मामले पर गंभीरता दिखाते हुये प्रतिकुलपति एसके दीक्षित की अध्यक्षता में जांच कमेटी की नियुक्ति की है। जो पेपर लीक मामले की जांच करेगी।

गोरखपुर विश्वविद्लय के जनसंपर्क अधिकारी प्रोफेसर हर्ष सिन्हा का कहना है कि मामला काफी गंभीर है। ऐसे में परीक्षा की सुचिता को बनाये रखने के लिए जिन विषयों के पेपर सोशल मीडिया पर वायरल हुये हैं। उनकी परीक्षा को रद किया गया है। इस पूरे मामले की जांच करायी जायेगी। दोषी पाये जाने वालों के खिलाफ केस दर्ज कराने के साथ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के