‘भूमि’ में अदिति राव हैदरी का अभिनय दमदार, मिलेगा दादासाहेब फाल्के पुरस्कार

- in मनोरंजन

फिल्म पद्मावत में रणवीर और शाहिद कपूर को दादासाहेब फाल्के अवॉर्ड की घोषणा के बाद अब एक्ट्रेस अदिति राव हैदरी को फिल्म भूमि के लिए दादासाहेब फाल्के पुरस्कार देने का फैसला किया गया है. हालांकि  फिल्म ‘भूमि’ बॉक्स ऑफिस पर ज्यादा कमाल नहीं दिखा पाई थी लेकिन दर्शकों ने अदिति राव के अभिनय की तारीफ की थी.'भूमि' में अदिति राव हैदरी का अभिनय दमदार, मिलेगा दादासाहेब फाल्के पुरस्कार

इसी के चलते 2018 की पुरस्कार लिस्ट में अदिति राव हैदरी को भी नामित किया गया है जिसमे बेस्ट क्रिटिक्स लीडिंग लेडी का अवॉर्ड फिल्म भूमि के लिए दिया जाएगा .बता दें, इसके पहले अदिति ने पद्मावत में मेहरुन्निशा का छोटा सा रोल प्ले किया था जिसमे वो रणवीर यानि अलाउद्दीन खिलजी की पत्नी थी. इस रोल को लोगों ने काफी पसंद किया और अदिति की काफी तारीफ भी हुई.

अभिनय का लोहा मनवाया

अदिति राव हैदरी को इंडस्ट्री में ज्यादा वक्त नहीं हुआ है लेकिन जिस तरह से वे फिल्म और अपने किरदारों का चुनाव कर रही हैं कहा जा सकता है कि वे काफी आगे तक जाएंगी. अदिति राव ने 6 साल की उम्र में भरतनाट्यम की ट्रेनिंग लेना शुरू कर दिया था. उन्हें एक्टिंग के साथ डांस का भी बहुत शौक है. यहां तक की एक्टिंग में अपने करियर की शुरुआत भी उन्होंने डांस पर आधारित तमिल फिल्म ‘श्रृंगारम’ से की थी.

सिंगर भी हैं अदिति

डांसिंग और एक्टिंग के अलावा अदिति एक सिंगर भी हैं. अपनी फिल्म ‘लंदन पेरिस न्यूयॉर्क’ से उन्होंने अपने सिंगिंग करियर में डेब्यू किया था. इस फिल्म में उन्होंने दो गानें गाए थे. अदिति की मां भी ठुमरी गायिका रह चुकी हैं.

कहां होगा सम्मान समारोह का आयोजन?

21 अप्रैल 2018 को इस सम्मान समारोह का आयोजन बांद्रा के सेंट एंड्रयूज ऑडोटोरियम में किया जाएगा जबकि इस सम्मान समारोह का आयोजन स्माइल फाउंडेशन के द्वारा किया जाएगा.

दादा साहेब फाल्के पुरस्कार

दादा साहेब फाल्के पुरस्कार भारतीय सिनेमा जगत का सबसे सम्माननीय पुरस्कार है. भारत सरकार द्वारा हर वर्ष यह पुरस्कार उस भारतीय सिनेमा की प्रमुख हस्ती को दिया जाता है, जिसने अपने जीवन काल में भारतीय सिनेमा जगत में महत्वपूर्ण योगदान दिया हो. पुरस्कार का निर्धारण करने के लिये, भारतीय सिनेमा जगत के प्रख्यात व्यक्तियों की एक समिति का गठन किया किया जाता है. भारतीय सिनेमा के जन्मदाता दादा साहेब फाल्के की जन्म शताब्दी के अवसर पर वर्ष 1969 में इस पुरस्कार की स्थापना की गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जाह्नवी कपूर की इस ड्रेस को देखकर लोगो के उड़े होश, तस्वीरे देख पागल हो जाएगे

दोस्तों बॉलीवुड की पहली सुपर स्टार रहा चुकी