दिल्ली की सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी (आप) ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर पूर्वांचल के लोगों को अपमानित करने का आरोप लगाया है। इसके संदर्भ में ‘आप’ ने दिल्ली प्रदेश भाजपा के पूर्वांचल मोर्चा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष चंदन चौधरी के साथ रविवार को दोबारा हुई मारपीट का हवाला दिया है। पार्टी मुख्यालय में ‘आप’ प्रवक्ता राघव चड्ढा ने चंदन चौधरी के साथ हुई मारपीट का वीडियो सार्वजनिक करते हुए कहा कि पहले भाजपा शासित गुजरात और अब दिल्ली में पूर्वांचलियों के साथ मारपीट हुई है।'AAP' नेता का बड़ा बयान, कहा- पूर्वांचलियों को पीट रही है भाजपा, नहीं हो रही कार्रवाई

पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही
चंदन चौधरी के साथ 13 दिन पहले भी एक बार मारपीट हो चुकी है। वे खुद थाने गए, अपनी दास्तां पुलिस अधिकारियों को बताई, लेकिन इतने दिन बाद भी एफआइआर दर्ज नहीं हुई। चड्ढा ने पूछा कि क्या इस एफआइआर में भाजपा के बड़े नेताओं के नाम हैं? इसीलिए पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही। उन्होंने कहा कि हमें जो जानकारी मिली है, उसके अनुसार रविवार रात देवली विधानसभा स्थित अस्थल मंदिर में छठ पूजा की तैयारियां करने वाली समिति के सदस्यों के साथ मारपीट की गई, जिसमें चंदन चौधरी भी थे।

दिल्ली छोड़ देने तक की चेतावनी
‘आप’ प्रवक्ता ने कहा कि छठ समिति के सदस्यों ने बताया कि उनसे कहा गया था कि अपने कार्यक्रम में स्थानीय सांसद को भी आमंत्रित करो। इससे इनकार करने पर चंदन के साथ मारपीट की गई। उन्हें दिल्ली छोड़ देने तक की चेतावनी दी गई। ऐसे में सोचने वाली बात यह है कि यदि पूर्वांचल से जुड़े नेता के साथ भाजपा वाले ऐसा कर रहे हैं तो आम पूर्वांचली के साथ कैसा व्यवहार होगा।

भाजपा वाले पूर्वांचली नेता को पीटते हैं
‘आप’ नेता ने कहा कि भाजपा केंद्र की सत्ता में है इस सत्ता को पूर्वांचलियों द्वारा दिलाया गया है। मगर यह कैसी विडंबना है कि एक तरफ तो मनोज तिवारी पुलिस अधिकारी का कॉलर पकड़ते हैं दूसरी ओर भाजपा वाले पूर्वांचली नेता को पीटते हैं। ‘आप’ द्वारा पूर्वाचलियों के लिए किए गए कामों की जानकारी देते हुए चड्ढा ने कहा कि हमने उनके लिए उत्तर भारत स्वाभिमान यात्रा निकली। उनको एक साथ जोड़ने की व्यापक स्तर पर कोशिश की है।