‘आप’ में गुटबाजी, नेता प्रतिपक्ष खैहरा की बुलाई बैठक में नहीं पहुंचे 9 विधायक

चंडीगढ़। पंजाब सरकार के खिलाफ जन अभियान शुरू करने को लेकर बुलाई गई बैठक में आम आदमी पार्टी के 11 विधायक ही पहुंचे, जबकि 9 रहे गैरहाजिर रहे। गैरहाजिर रहने वाले विधायकों में एचएस फूलका, अमन अरोड़ा, बलजिंदर कौर, कुलतार सिंह संधवां, अमरजीत सिंह संधोआ, बुद्ध राम, हरपाल चीमा, मनजीत सिंह व मीत हेयर शामिल हैं।'आप' में गुटबाजी, नेता प्रतिपक्ष खैहरा की बुलाई बैठक में नहीं पहुंचे 9 विधायक

ड्रग्स मामले में बैकफुट पर आने के बाद आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई की गुटबाजी किसी भी समय बगावत की वजह बन सकती है। पार्टी में एक तरफ दिल्ली वालों के साथ जुड़े विधायकों का धड़ा है और दूसरी तरफ विरोधी पक्ष के नेता सुखपाल खैहरा और बैंस बंधुओं का धड़ा है। पार्टी के पूर्व प्रधान और एमपी भगवंत मान के नजदीकी विधायक सीधे केजरीवाल की टीम के इशारे पर चल रहे हैं, जबकि दूसरी तरफ के एक दर्जन के करीब विधायक सुखपाल खैहरा की टीम में काम कर रहे हैं।

आप के धड़ों की गुटबाजी उस समय फिर जगजाहिर हो गई, जब विरोधी पक्ष के नेता सुखपाल खैहरा की तरफ से बुलाई गई विधायक दल की मीटिंग में 9 विधायक गैरहाजिर रहे। उन्होंने चंडीगढ़ दफ्तर से प्रेस नोट जारी किया। इस मामले में कोई भी नेता टिप्पणी करने से इन्कार कर रहा है।

कुछ विधायकों ने सफाई दी कि वह अपनी अपने हलकों के प्रोग्राम में व्यस्त होने के कारण मीटिंग में उपस्थित नहीं हो सके, लेकिन राजनीतिक हलकों में इस की चर्चा फिर शुरू हो गई है कि पार्टी के विधायकों में गुटबाजी चल रही है। 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button