6000 करोड़ का कालाधन आया सामने, सुर्खियों में हीरा व्यापारी

गांधीनगर। केंद्र सरकार ने 500 और 1000 के नोटों पर पाबंदी लगा दी है। सरकार के इस फैसले के बाद से सारे देश में अफरा-तफरी मच गई है। हर व्यक्ति पैसे बदलवाने के लिए बैंकों में लाइन में लगा हुआ है। नोट बंद होने के बाद जहां काला धन रखने वाले लोग इसे छुपाने और ठिकाने लगाने के तरीके ढूंढ रहे हैं, वहीं गुजरात के हीरा व्यापारी लालजी पटेल एक फैसले ने उन्हें सुर्खियों में ला दिया है।6000 करोड़ का कालाधन आया सामने

6000 करोड़ का कालाधन आया सामने

लालजी पटेल ने अपने छह हजार करोड़ रुपये बैंक के सामने सरेंडर कर दिया है। दिलचस्प बात यह है कि इसके लिए वे 200 फीसदी टैक्स भी जमा करने को तैयार हैं। यानी सरकारी खजाने में पेनाल्टी और टैक्स समेत 5400 करोड़ रुपये जमा हो जाएंगे।

बताया गया है कि सरकार 1800 करोड़ रुपये तो टैक्स लगायेगी, जबकि पेनाल्टी के नाम पर 3600 करोड़ रुपये लेगी।

200 प्रतिशत फाइन देने वाले लालजी पटेल वहीं कारोबारी है, जिन्होंने नीलामी में 4.3 करोड़ रुपए देकर प्रधानमंत्री मोदी का नाम लिखा हुआ सूट खरीदा था। आज भी यह सूट कंपनी में आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

बता दें कि लालजी पटेल ने हाल ही में बालिका शिक्षा के लिए जहां 200 करोड़ रुपये दान दिया था, वहीं वे अपनी कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों को बोनस के रूप में मकान और कार भी दे चुके हैं।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button