27 साल बाद बन रहा है दुर्लभ संयोग, मिलेगा महिलाओं को विशेष फल

आप सभी को बता दें कि इस बार महिलाओं का त्योहार करवा चौथ 27 अक्टूबर, यानि शनिवार को मनाया जाएगा और कहा जा रहा है इस बार का करवा चौथ कुछ मायनों में पहले के करवा चौथों से अलग और खास है. जी हाँ, ज्योतिषों का मानना कि इस बार अमृत सिद्धि और सर्वार्थ सिद्धि योग बन रहा वहीं ज्योतिषों के अनुसार यह योग 27 साल बाद बन रहा है और यह दुर्लभ योग इस बार करवा चौथ के व्रत और त्योहार को बहुत खास बनाने वाला है. खबरों के अनुसार इस बार व्रत रखने के लिए यह उपयुक्त दिन होगा और इस बार व्रत का लाभ बहुत अधिक होगा.

ऐसे में करवा चौथ पर अमृत सिद्धि और सर्वार्थ सिद्धि का विशेष संयोग इसके बाद 16 साल बाद आएगा और उससे पहले यह संयोग 1991 में बना था और इस बार यह संयोग खूब अच्छा है और सभी के व्रत इस बार सिद्ध होंगे.  ऐसे में इस बार का करवा चौथ बेहद खास होने वाला है और सालों बाद व्रती महिलाओं को विशेष फल मिलने वाला है. आइए जानते है मुहूर्त.

करवा चौथ मुहूर्त – कहा जा रहा है करवा चौथ पर महिलाएं पूरे दिन व्रत रखती हैं और रात को चांद देखकर उसे अर्घ्य देकर व्रत खोलती हैं ऐसे में करवा चौथ पूजा मुहूर्त: 5:40 से 6:47 तक और करवा चौथ चंद्रोदय समय 7 बजकर 55 मिनट है.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button