ब्रिटेन से लौटे 20 यात्रियों ने बढ़ाई चिंता, भारत में नया वायरस….

क्या ब्रिटेन का नया कोरोना वायरस भारत में दाखिल हो चुका है? ये सवाल इस वजह से उठ रहा है क्योंकि ब्रिटेन से भारत आए 20 यात्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. उन सभी को क्वारनटीन कर दिया गया है और उनके सैंपल टेस्ट के लिए भेजे गए हैं. टेस्ट के नतीजों से जवाब मिलेगा कि ब्रिटेन का नया वायरस भारत में दाखिल हुआ है या नहीं. लेकिन सावधानी अभी से पुख्ता कर दी गई है. 

ब्रिटेन आने-जाने वाली सभी फ्लाइट्स पर मंगलवार रात से रोक लागू हो गई है. लेकिन इससे पहले काफी यात्री मुंबई और दिल्ली समेत देश के अलग-अलग हिस्सों में आए हैं. अब इन यात्रियों की निगरानी की जा रही है. 

महाराष्ट्र ने कोरोना का सबसे खतरनाक दौर देखा है. लिहाजा, इस बार उद्धव सरकार बेहद सख्त है. ब्रिटेन ही नहीं कई यूरोपीय देशों और मिडिल ईस्ट से आने वाले यात्रियों को भी पहले होटल भेजा जा रहा है. फिर 5 से 7 दिन बाद उनका RT PCR टेस्ट कराया जाएगा. हालांकि, इन सबका खर्च यात्रियों को ही उठाना पड़ेगा. 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

उधर, कोरोना का पीक झेल चुके अहमदाबाद में भी इंतजाम पुख्ता नज़र आए. यहां ब्रिटेन से विमान उतरा तो यात्रियों की जांच शुरू हो गई. सरकार के नए नियमों के मुताबिक तमाम यात्रियों का RT PCR टेस्ट किया गया.

टेस्ट के बाद यात्रियों को रिजल्ट आने तक एयरपोर्ट पर ही रोका गया. पॉजिटिव पाए जाने पर उन्हें अस्पताल भेजा जाएगा, जबकि निगेटिव आने पर जिन्हें घर भेजा जाएगा वहां 7 दिन तक क्वारनटीन में रहना होगा। 

जांच को लिए भेजे गए सैंपल
फ्लाइट पर रोक से पहले ब्रिटेन से भारत पहुंचे 8 यात्रियों के कोरोना पॉजिटिव होने की बात पता चली है. इनमें से 6 यात्री लंदन से एयर इंडिया के विमान से दिल्ली पहुंचे थे. इन 6 में से एक यात्री ने दिल्ली से चेन्नई के लिए कनेक्टिंग फ्लाइट ली थी. उसे चेन्नई में टेस्ट के बाद कोरोना पॉजिटिव पाया गया. इनके अलावा ब्रिटेन से कोलकाता पहुंचे दो यात्रियों को भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया.

इन सभी के सैंपल पुणे भेजे गए हैं ताकि ये पता लगाया जा सके कि क्या इनमें ब्रिटेन में फैला कोरोना वायरस का नया रूप है या नहीं. सरकार के मुताबिक देश में अब तक ब्रिटेन में फैले नए कोरोना वायरस का एक भी मामला सामने नहीं आया है. 

अलर्ट पर सरकार
वहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी नए दिशानिर्देश इस बार काफी सख्त हैं. ऐसे यात्री जो ब्रिटेन से 25 नवंबर से 8 दिसंबर के बीच भारत पहुंचे हैं उनसे जिला निगरानी अधिकारी संपर्क करेंगे. उनसे रोजाना अपनी सेहत की जांच कर जानकारी देने को कहा जाएगा. 

इसके अलावा 9 दिसंबर से 23 दिसंबर के बीच ब्रिटेन से आए यात्रियों का ब्योरा भी राज्य सरकारों को भेजा जाएगा. इनमें से किसी के भी कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उसका सैंपल पुणे भेजा जाएगा जहां लैब में ये पता लगाया जाएगा कि उसमें नया कोरोना वायरस तो नहीं है.

देश के स्वास्थ्य मंत्री ने भरोसा दिया है कि दहशत में आने की जरूरत नहीं है. सरकार नए कोरोना वायरस को लेकर पूरी तरह सतर्क है और उस पर नजर रख रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button