बढता ही जा रहा है कोरोना का कहर, भारत में मरीजों का आकड़ा पहुंचा 169

भारत में कोरोना वायरस के मामलों में और इजाफा हुआ है और यह आंकड़ा 170 के करीब पहुंच गया। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, देशभर में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 169 हो गई है। इनमें से 25 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। बता दें कि दुनियाभर में कोरोना वायरस से करीब आठ लाख लोगों इसकी चपेट में आ चुके हैं। भारत में अब तक कोविड-19 से संक्रमित तीन मौतों की पुष्टि हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, भारत में कोरोना वायरस एक्टिव मामलों की संख्या 151 है। जबकि 14 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। माइग्रेटेड मरीज की संख्या 1 है और तीन लोगों की इस वायरस से अब तक मौत हो चुकी है।

जानें अब तक कहां कितने मामले
दिल्ली में संक्रमण के अब तक 11 मामले सामने आए हैं, जिनमें एक विदेशी शामिल हैं जबकि उत्तर प्रदेश में एक विदेशी समेत 16 मामले दर्ज किए गए हैं। महाराष्ट्र में तीन विदेशियों समेत 42 मामले सामने आए हैं जबकि केरल में दो विदेशी नागरिकों समेत 27 मामले दर्ज किए गए हैं। कर्नाटक में कोरोना वायरस के 14 मरीज हैं। लद्दाख में संक्रमण के मामले बढ़कर आठ हो गए हैं और जम्मू-कश्मीर में इसकी संख्या बढ़कर चार हो गई है। तेलंगाना में दो विदेशियों समेत 6 मामले सामने आए हैं। राजस्थान में दो विदेशियों समेत 5 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। तमिलनाडु में दो मामले सामने आए हैं, जबकि आंध्र प्रदेश, ओडिशा, चंडीगढ़, उत्तराखंड और पंजाब में एक-एक मामला सामने आया है। हरियाणा में 14 विदेशियों समेत 16 लोग संक्रमित हैं।

कोरोना वायरस की वजह से 100 से अधिक ट्रेनें रद्द
भारतीय रेलवे ने सीटें खाली रहने और कोरोना वायरस को लेकर एहतियाती उपाय के तहत बुधवार को 100 से ज्यादा ट्रेनों को रद्द कर दिया। सरकारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। पश्चिम मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे ने 11-11 ट्रेनें रद्द कीं, दक्षिण मध्य रेलवे और पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे ने 20-20, दक्षिणी रेलवे ने 32 और पूर्व मध्य रेलवे ने पांच ट्रेनों को रद्द किया। अधिकारियों ने जोनल रेलवे के कैटरिंग स्टाफ के संबंध में दिशा निर्देश जारी किए थे, जिसमें कहा गया है कि बुखार, खांसी, नाक बहने या सांस लेने में कठिनाई होने वाले किसी भी कर्मचारी को भारतीय रेलवे में खान-पान का जिम्मा देखने के लिए तैनात नहीं किया जाना चाहिए।

भारत में 36 देशों से आने वाले यात्रियों के प्रवेश पर अस्थायी रोक
भारत ने कोरोना वायरस प्रकोप के मद्देनजर 36 देशों से आने वाले यात्रियों के प्रवेश पर अस्थायी रोक लगा दी है। वहीं 11 देशों के यात्रियों को अनिवार्य रूप से अलग रखा जाएगा। गृह मंत्रालय ने बुधवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय ने यह भी कहा कि प्रतिबंधित देशों को छोड़कर ‘ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया'(ओसीआई) कार्डधारकों को भारत में प्रवेश के लिये भारतीय मिशनों से ताजा वीजा लेना होगा। मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि ‘कोई भी एयरलाइन ऑस्ट्रेलिया, बेल्जियम, बुल्गारिया, क्रोएशिया, साइप्रस, चेक गणराज्य, डेनमार्क, एस्टोनिया, फिनलैंड, फ्रांस, जर्मनी, ग्रीस, आइसलैंड, हंगरी, आयरलैंड, इटली, लातविया, लिकटेंस्टीन, लिथुआनिया, लक्जमबर्ग, माल्टा, नीदरलैंड, नॉर्वे, पोलैंड, पुर्तगाल, रोमानिया, स्लोवाकिया, स्लोवेनिया, स्पेन, स्वीडन, स्विटजरलैंड, तुर्की, ब्रिटेन से किसी भी यात्री को भारत नहीं लाएगी। यह आदेश 12 मार्च से प्रभावी हो चुका है।’ इसके अलावा 17 मार्च से एयरलाइनों द्वारा फिलिपीन, मलेशिया और अफगानिस्तान से यात्रियों के लाने पर भी रोक लगा दी गई है।

कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज ने की आत्महत्या
कोविड-19 के एक संदिग्ध मरीज ने बुधवार की शाम दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल की सातवीं मंजिल से कूदकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने बताया कि हवाईअड्डा अधिकारियों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया था जिसके तुरंत बाद उसने यह कदम उठाया। पुलिस ने इस व्यक्ति की आयु 35 वर्ष बताई है जबकि स्वास्थ्य मंत्रालय ने उसकी उम्र 23 वर्ष बताई।

दुनियाभर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 2 लाख पार
दुनियाभर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर बुधवार को दो लाख के पार हो गई। यूरोप, उत्तरी अमेरिका और एशियाई देशों की सरकारें इस जानलेवा वायरस को रोकने के लिये एड़ी-चोटी का जोर लगाए हुए हैं। दुनियाभर में मृतकों की संख्या आठ हजार हो गई है। यूरोप में भी मौत का आंकड़ा बढ़ा है, जहां इस बीमारी से अबतक कुल 3,437 लोग दम तोड़ चुके हैं। इनमें सबसे अधिक 2,978 मौतें इटली में हुईं। पूरे यूरोप में 80,000 से अधिक लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं।

सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड की परीक्षाएं स्थगित कीं
सीबीएसई ने कोरोना वायरस प्रकोप के मद्देनजर 10वीं और 12वीं कक्षा की जारी परीक्षाएं बुधवार को 31 मार्च तक स्थगित कर दीं। सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने कहा, ‘भारत और विदेश में सीबीएसई की जारी परीक्षाएं 31 मार्च तक स्थगित की जाती हैं और इसे स्थिति के आकलन के बाद पुन: निर्धारित किया जाएगा।’ उन्होंने कहा, ‘जारी मूल्यांकन कार्य भी इस अवधि के दौरान निलंबित रहेगा।’

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen + eleven =

Back to top button