Home > जीवनशैली > 1 से 3 महीने का गर्भ गिराने के ये हैं सबसे आसान तरीके, महिलाए एक बार जरुर पढ़े

1 से 3 महीने का गर्भ गिराने के ये हैं सबसे आसान तरीके, महिलाए एक बार जरुर पढ़े

प्रेगनेंसी किसी भी महिला के लिए सबसे बड़ी खुशी का कारण होती है लेकिन अगर यह प्रेगनेंसी बिना तैयारी के आ जाए तो परेशानी का कारण बन जाती है। अगर आपके साथ भी यह स्थिति है आ गयी है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। क्योंकि अन्य तरीकों के अलावा कुछ घरेलू उपाय भी है जिनकी मदद से 1 से 3 महीने का गर्भ गिराया जा सकता है।

गर्भपात करने के तरीके : कैसे करें सुरक्षित गर्भपात

प्रेगनेंसी किसी भी महिला के लिए सबसे बड़ी खुशी का कारण होती है लेकिन अगर यह प्रेगनेंसी बिना तैयारी के आ जाए तो परेशानी का कारण बन जाती है। अगर आपके साथ भी यह स्थिति है आ गयी है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। क्योंकि अन्य तरीकों के अलावा कुछ घरेलू उपाय भी है जिनकी मदद से 1 से 3 महीने का गर्भ गिराया जा सकता है। लेकिन हर स्थिति में ऐसा जरुरी नहीं की घरेलू तरीको का इस्तेमाल करके अनचाहा गर्भ गिर जाए।

पहले या दुसरे हफ्ते की प्रेगनेंसी में ब्लीडिंग हो जाने पर यह साफ़ हो जाता है की आपका गर्भपात हो गया है। लेकिन इस स्थिति में भी डॉक्टर से परामर्श लेना जरुरी होता है। इसके अतिरिक्त आजकल दो महीने तक की प्रेगनेंसी से निजात पाने के लिए एबॉर्शन पिल्स भी मौजूद है जिनका इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन इनका इस्तेमाल करने से पूर्व एक बार डॉक्टर से राय ले लेनी चाहिए। लेकिन अगर आपका गर्भ तीन महीने का हो गया है तो इससे निजात पाने के लिए आपको डॉक्टर द्वारा बताएं गए ट्रीटमेंट ही करवाने होंगे।

 क्योंकि इस स्थिति में अगर आप घरेलू उपाय का इस्तेमाल करती है तो ब्लीडिंग तो हो जाती है लेकिन सही तरीके से गर्भपात न होने के कारण हो सकता है आपने गर्भाशय में कुछ टिश्यू रह जाएं। जो की बाद में आपके लिए समस्या खड़ी कर सकते है। इसलिए आज हम आपको एक से तीन महीने के गर्भ गिराने के लिए क्या क्या किया जा सकता है इस बारे में बताने जा रहे है। लेकिन ध्यान रहें इनमे से किसी भी उपाय का इस्तेमाल करने से पूर्व डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।

अगर आपको भी हैं डायबिटीज तो गर्मी के मौसम में करें ये काम नहीं होगी कोई दिक्कत

1 महीने से 10-15 दिन का गर्भ गिराने के तरीके :-

1. बबूल के पत्ते :

अगर आपकी प्रेगनेंसी 1 महीने से 15 दिन तक की है तो उसके लिए बबूल के पत्तों का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए 8 से 10 बबूल के पत्ते लें और उन्हें एक ग्लास पानी में उबाल लें। पत्तों को तब तक उबालें जब तक पानी आधा न रह जाए। अब इस पानी को ब्लीडिंग शुरू होने तक दिन में 4 से 5 बार पियें। गर्भ अपने आप गिर जाएगा।

2. विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थ :

विटामिन सी खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन करने से भी प्रेगनेंसी को हानि होती है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को विटामिन सी का सेवन नहीं करने की सलाह दी जाती है। अगर आपकी प्रेगनेंसी अभी अभी शुरू हुई है तो आपको विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन करना चाहिए। इसके लिए आप कटहल, पपीता, कच्चा पपीता, संतरा, अनानास आदि का सेवन कर सकती है।

3. भुने हुए तिल :

तिल की तासीर बहुत गर्म होती है और अनचाहे गर्भ से निजात पाने के लिए गर्म तासीर वाले भोजन की आवश्यकता होती है। जिसके लिए आप तिल का इस्तेमाल कर सकते है। इसके लिए थोड़े से तिल भुन लें और उसमे दो से तीन चम्मच दिन में 4 बार सेवन करें। इससे आपको जल्द फायदा मिलेगा।

4. भागदौड़ और व्यायाम :

बहुत अधिक भागदौड़ और व्यायाम करने से भी शुरुवाती दिनों का गर्भ गिर जाता है। इसके लिए आप सीढियाँ चढ़ना, भारी सामान उठाना, पेट के बल काम करना आदि जैसी गतिविधियाँ कर सकती है। ये आपका गर्भपात कराने में मदद कर सकती है।

5. सोयाबीन :

सोयाबीन में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते है जो गर्भ ठहरने नहीं देते। इसके लिए रात के समय में थोड़े से सोयाबीन के दानें पानी में भिगोकर रख दें। सुबह जागकर खाली पेट इन्हें चबाकर खाएं। इससे गर्भपात के चांसेस बढ़ जाएंगे।

6. सीताफल के बीज :

इन बीजों का सेवन करने से भी गर्भ से निजात पाने में मदद मिलती है। इसके लिए सीताफल के बीजों को पीसकर पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट को प्राइवेट पार्ट में लगाएं। ऐसा तब तक करें जब तक ब्लीडिंग न हो जाए।

7. एस्पिरिन :

एस्पिरिन की गोलिया भी गर्भ गिराने में आपकी मदद कर सकती है। इसके लिए रोजाना 4 से 10 एस्पिरिन की गोलियां खाएं। उपाय के बेहतर परिणामों के लिए एस्पिरिन के साथ लौंग, काफी, पार्सले, अदरक और अंजीर का सेवन भी करें। मासिक धर्म अपने आप आने लगेंगे।

गर्भ गिराने के अन्य उपाय :-
  • पपीते में विटामिन सी और पेपाइन नामक एसिड पाया जाता है जजों प्राकृतिक तरीके से गर्भपात करवाता है।
  • अनानास का सेवन करने से भी गर्भपात आसानी से हो जाता है।
  • नियमति रूप से गर्म पानी से नहाने से भी गर्भ गिर जाता है।
  • ग्रीन टी के अत्यधिक सेवन से फर्टिलिटी से संबंधित समस्याएं होने लगती है जिससे गर्भपात भी हो सकता है।
  • किसी भी तरह की चीज़ का सेवन करने से अनचाहा गर्भ नहीं ठहरता। क्योंकि इन्हें बिना उबले दूध से बनाया जाता है।
  • अनार को उसके बीजों के साथ खाने से भी मिसकैरेज के चांसेस बढ़ जाते है।
दो महीने का गर्भ गिराने के तरीके :-

अगर आपका गर्भ 2 महीने तक है तो इस स्थिति में आपको डॉक्टर से सलाह लेनी होगी। वैसे तो इसके लिए बहुत सी दवाएं मार्केट में मौजूद है लेकिन बिना सलाह के इनका इस्तेमाल करना हानिकारक हो सकता है। इसके अलावा ब्लीडिंग होने के बाद भी डॉक्टर से जाँच जरुर करवानी चाहिए। ताकि भविष्य में किसी तरह की कोई परेशानी न हो।

तीन माह का गर्भ गिराने के तरीके :-

इस स्थिति में केवल डॉक्टरी सलाह से ही गर्भपात करवाना चाहिए, क्योंकि इस स्टेज पर आकर घरेलू उपाय से गर्भपात करना ठीक नहीं। क्योंकि इस समय तक बच्चा थोडा विकसित हो चुका होता है, ऐसे में गलत तरीकों का इस्तेमाल करके गर्भपात करना मुश्किलों का कारण बन सकता है। इसलिए इस समय में डॉक्टर से सलाह लेकर सही तरीके से ही गर्भपात कराएं।

तो ये थे कुछ उपाय जिनकी मदद से एक से तीन महीने का गर्भपात किया जा सकता है। लेकिन इनके इस्तेमाल के समय एक बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए की अगर आप बार-बार गर्भपात करवा रही है तो आगे प्रेगनेंसी में समस्या हो सकती है।

 
Loading...

Check Also

पत्नी की इन 5 हरकतों के कारण, पति-पत्नी का रिश्ता हमेशा के लिए हो जाता है खत्म

दांपत्य जीवन में पति-पत्नी के बीच आपसी विश्वास बेहद जरूरी होता है. पर कई बार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com