ज़्यादा पकी हुई चीजो को खाने से हो सकता है कैंसर का खतरा

- in हेल्थ

आजकल कैंसर की बीमारी बहुत देखने को मिलती है .कैंसर फैलने की बड़ी वजह भी खाने की गलत आदतें भी हो सकती हैं. विशेषज्ञों के अनुसार, ज्यादा तापमान पर पके खाने में एक्रिलामाइड नाम का तत्व पैदा हो जाता है जो सेहत के लिए नुकसानदायक है. ज़्यादा पके खाने में एक्रिलामाइड नाम का यह रसायन पैदा हो जाता है.

सर्दियों में मॉर्निंग वॉक का मज़ा कहीं बन ना जाए सज़ा, जानिए क्योंसर्दियों में मॉर्निंग वॉक का मज़ा कहीं बन ना जाए सज़ा, जानिए क्यों

बाद में यही रसायन बाद में सेहत के लिए भारी पड़ता है.यह रसायन चिप्स,ब्रेड,दालों, बिस्किट, क्रैक्स, केक और कॉफी में जो 120 डिग्री सेल्सियस तक पकाए जाते हैं,उसमें पाया जाता है. इसका ज्यादा मात्रा में सेवन करने से कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है. 

जरूरत से ज्यादा तापमान पर पकाए गए ब्रैड टोस्ट में एक्रिलामाइड की मात्रा भी बढ़ जाती है. जब ब्रैड का रंग भूरा होने लगता है तब इसमें एमीनो एसीड,शर्करा मिलकर एक्रिलामाइड बनते हैं. जिससे ब्रैड में सुगंध भी पैदा होनी शुरू हो जाती है. फूड स्टैंडर्स एजेंसी ने खाने से को ज्यादा पका कर न खाने की सलाह दी है.

ज़्यादा पका खाना बन सकता है इन रोग का कारण –

1-शोध में यह बात सामने आई है कि इस रसायन के साथ कैसर होना का खतरा तो बढता ही है साथ ही इससे प्रजनने क्षमता पर भी बुरी असर पड़ता है. 

2-इसके अलावा इस शोध में यह भी कहा गया है कि आलू को फ्रिज में रखने से भी इसमें शर्करा बढ़ जाती है. जब इसे पकाया जाता तो इसमें एक्रिलामाइड जैसा खतरनाक रसायन पैदा हो जाती है. इससे सेहत को बहुत नुकसान हो सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अगर आपके शरीर के इस हिस्से में होता है दर्द तो आपको होने वाला है कैंसर

कैंसर एक ऐसी अवस्था है जिसमें शरीर के