" /> मोदी सरकार का सराहनीय कदम, मुस्लिमों के हित में हज यात्रा 2020 का डिजटलीकरण > Ujjawal Prabhat | उज्जवल प्रभात

मोदी सरकार का सराहनीय कदम, मुस्लिमों के हित में हज यात्रा 2020 का डिजटलीकरण

बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय कार्य समिति के सदस्य आसिफ ज़मा रिज़वी ने हज 2020 के लिए सउदी अरब के साथ द्विपक्षीय समझौतों पर हस्ताक्षर के लिए केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की प्रशंसा की है। नकवी ने जेद्दाह में सउदी अरब के हज एवं उमरा मंत्री के साथ द्विपक्षीय समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं जिसके बाद भारत विश्व का पहला देश बन गया है जहां हज 2020 की सभी प्रक्रियाएं डिजिटल प्लेटफार्म के जरिये पूरी होगी।

Loading...

हज यात्रा 2020 का डिजटलीकरण

इस ऐतिहासिक समझौते पर हस्ताक्षर के साथ ही, भारतीय मुसलमानों को हज यात्रा से संबंधित कई सुविधाएं दी जाएंगी। 2020 में भारत से लगभग 2 लाख मुस्लिम हज यात्रा पर जाएंगे और उन्हें ऑनलाइन आवेदन, ई वीजा, हज मोबाइल एप, ई मसीहा स्वास्थ्य सुविधा, मक्का मदीना में ठहरने तथा यातायात से जुड़ी सभी जानकारी देने वाले ‘ई लगेज प्री टैगिंग’ से जोड़ा गया है। दूसरी ओर यह पहली बार है जब एयरलाइंस द्वारा डिजिटल प्रीटैगिंग की व्यवस्था की गई है-, जिससे हज यात्रियों को भारत में ही सभी प्रकार की जानकारी मिल जाएगी। हज यात्रियों को पूर्व सूचना मिल जाएगी कि भवका मदीना में किस इमारत के किस कमरे में ठहरने और हवाई अड्डे पर उतरने के बाद किस नंबर को बस लेनी होगी।

हज यात्रा 2020 का डिजटलीकरण

भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय कार्य समिति के सदस्य आसिफ़ ज़मा रिजवी ने हज यात्रा को पूरी तरह डिजिटल करने के लिए नरेंद्र मोदी सरकार की सराहना की है। भारत अब विश्व का पहला देश बन गया है जहां हज 2020 की प्रक्रियाएं डिजिटल प्लेटफार्म के जरिये पूरी की जाएंगी, जिससे भारतीय हज यात्री सुगमता के साथ यात्रा पूरी कर सकेंगे। इसके लिए यात्रियों के सिम कार्ड को हज मोबाइल ऐप के साथ जोड़ा जाएगा ताकि उन्हें हज के बारे में नवीनतम जानकारी मिलती रहे। इसके अलावा भारत में सभी यात्रियों को हेल्थ काई दिए जाने की व्यवस्था की गई है, वहीं सऊदी अरब में उन्हें ‘ई मसीहा स्वास्थ्य सुविधा दी जाएगी। इस प्रणाली में प्रत्येक हज यात्री की सेहत से जुड़ी जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध कराई जाएगी। यात्रियों को आपात स्थिति में मक्का-मदीना में भी तुरंत मेडिकल सहायता प्रदान की जाएगी।
भारतीय हज यात्रियों की सहूलियत का ध्यान रखते हुए सरकार ने सभी हज समूह आयोजकों को भी 100 प्रतिशत डिजिटल प्रणाली http://haj.nic.in/pto/ से जोड़ा है। पहली बार पारदर्शिता और हज यात्रियों की सहूलियत हेतु हज समूह आयोजकों का भी पोर्टल बनाया गया है। यह पोर्टल अधिकृत एचजीओ (HGO) पैकेजों के बारे में सभी जानकारी प्रदान करता है।

किफायती है इलेक्ट्रिक स्कूटर्स मिडिल क्लास लोगो के लिए

इस वर्ष 100 टेलीफोन लाइन का सूचना केंद्र मुंबई के हज हाउस में शुरू किया गया है जिससे हज यात्रियों को यात्रा से जुड़ी सभी जानकारी मुहैया कराई जा सकेंगी।
केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी के प्रयासों की सहारना करते हए,लखनऊ से युवा भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा के नेता ने कहा है कि भारतीय मुस्लिमों के हितों का ध्यान रखते हुए अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत बीते चार वर्षों में हज यात्रा एवं अन्य कार्यक्रमों को पूरी तरह से डिजिटल एवं ऑनलाइन बनाने के लिए सशक्त एवं सफल कदम उठाए हैं।

हज 2020 की प्रक्रिया को पूरी तरह से डिजिटल किए जाने को आसिफ़ ज़मा रिज़वी ने स्मरणीय कदम बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने एक बार फिर पार्टी के “सबका साथ-सबका विकास” के नारे को चरितार्थ किया है। उन्होंने यह भी कहा कि हज यात्रा की प्रक्रिया को डिजिटल किए जाने से हज यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मिलेंगी और बिचौलिओं के नहीं होने से पूरी प्रक्रिया में पारदर्शिता आएगी।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *