सैलरी से खुश नहीं हैं विराट, जानिए बीसीसीआई से कितने रुपयों की रखी मांग

नई दिल्ली। दुनिया के सबसे धनी क्रिकेट बोर्ड में कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है। पहले लोढ़ा कमेटी के आदेश पर बीसीसीआई कार्यकारिणी भंग कर दी गई। जिसके बाद प्रशासकों की एक कमेटी बोर्ड को नियंत्रित कर रही है। सैलरी से खुश नहीं हैं विराट, जानिए बीसीसीआई से कितने रुपयों की रखी मांग

खबर है कप्‍तान विराट कोहली ने बीसीसीआई से अपनी सैलरी 5 करोड़ करने की मांग की है। कोहली ने अपने साथ-साथ अपने साथी खिलाडियों की सैलरी भी बढ़ाने की मांग की है।

मीडिया में चल रही खबरों की अगर मानें तो विराट कोहली ने ग्रेड-ए सूची में शामिल खिलाडियों को 5 करोड़, ग्रेड-बी सूची में शामिल खिलाडियों की सैलरी 3 करोड़ और ग्रेड-सी सूची में शामिल खिलाडियों को डेढ़ करोड़ देने की मांग की है।

बीसीसीआई को 2016-17 के वर्ष में 509.13 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। उन्हें खिलाडियों की इस मांग से झटका लगा है। हालांकि सुप्रीम कोर्ट की तरफ से बनाई गई सीओए ने इस मांग को ठुकराया नहीं है। बता दें कि इससे पहले रवि शास्त्री ने कहा था कि भारत में क्रिकेटर्स की सैलरी दो कौड़ी की है। बीसीसीआई को ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट से कुछ सीखना चाहिए।

प्लेयर्स एसोसिएशन बना सकते हैं कोहली

बीसीसीआई अधिकारी के मुताबिक कोहली प्लेयर्स एसोसिएशन बनाने की भी सोच रहे हैं। दिलचस्प है कि सुप्रीम कोर्ट ने एक बार कुंबले से खिलाड़ियों की एसोसिएशन बनाने को कहा था। ये ऑस्ट्रेलिया और वेस्ट इंडीज की तर्ज पर होने की बात थी। कोहली को पता चला कि भारतीय क्रिकेटर्स पैसे के मामले में इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बाद चौथे नंबर पर हैं। उसके बाद उन्होंने टीम के सीनियर सदस्यों से बात की। फिर सीओए से मीटिंग की इच्छा जताई।

शुरुआत में सीओए इस मांग के सामने नहीं झुका। वजह ये थी कि नए कॉन्ट्रैक्ट में पैसे दोगुने कर दिए गए थे। ए ग्रेड के क्रिकेटर को दो करोड़ रुपये मिलते हैं, जिसमें विराट कोहली और पूर्व कप्तान एमएस धोनी हैं। ग्रेड बी में रिटेनशिप के एक करोड़ और ग्रेड सी में 50 लाख रुपये मिलते है।

कोच कुंबले भी हैं कोहली के साथ

कोहली को कोच अनिल कुंबले का साथ मिला है। कोहली के मुताबिक इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर 10 – 12 करोड़ रुपये कमाते हैं। इनमें रिटेनशिप और मैच फीस शामिल है। भारत के टॉप क्रिकेटर्स की कमाई चार से पांच करोड़ रुपए हैं। इसमें भी रिटेनशिप और मैच फीस शामिल हैं।

टेस्ट और लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट के लिए बनाएं जाए 2 अलग कॉन्ट्रैक्ट्स

बीसीसीआई अधिकारी के मुताबिक, ‘कोहली, उनकी टीम और कुंबले बोनस भी चाहते हैं।’ अधिकारी का कहना है कि इन लोगों ने सीओए से कहा है कि दो कॉन्ट्रैक्ट बनाए जाएं। एक टेस्ट के लिए और एक सीमित ओवर्स की क्रिकेट के लिए। दोनों फॉरमेट में ग्रेड ए क्रिकेटर को पांच करोड़ रुपए दिए जाएं।

बीसीसीआई अधिकारी के मुताबिक ये मांग दिलचस्प है और पूरी तरह योजना बनाकर की गई है। कोहली ने तमाम लोगों के हित का ध्यान रखा है। उनकी मांग से टीम में कोई नाराज नहीं है। न ही उन्होंने किसी को खुश करने की कोशिश की है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button