सबसे बड़ी गेमिंग चैंपियनशिप ड्यू एरिना के साथ जुड़े 1.5 मिलियन गेमर्स…

6 महीने, दस लाख से अधिक प्रतियोगी, एक शानदार टाइटल, एक जबरदस्त फिनाले।माउंटेन ड्यू की बेहद सफल वार्षिक गेमिंग प्रॉपर्टी ड्यू एरिना के चौथे संस्करण का आज एक जबरदस्त फिनाले के साथ समापन हुआ। इससे पहले इस गेमिंग प्रतियोगिता के तीन सफल आयोजन हो चुके हैं। इस बार देशभर के 1.5 मिलियन गेमर्स ने इसमें हिस्सा लिया, जिससे यह भारत में अब तक की सबसे बड़ी गेमिंग चैंपियनशिप बन गई है।

Loading...

राजधानी में हुए ग्रैंड फिनाले में लोकप्रिय रियलिटी टेलीविजन स्टार प्रिंस नरूला शामिल हुए और उन्होंने अपना गेमिंग कौशल दिखाया। प्रिंस ने प्रशंसकों के साथ एक दोस्ताना गेम खेला और उनके साथ डोटा और स्ट्रीट फाइटर जैसे गेम खेले।

प्रिंस ने कहा, “गेमिंग भारत में तेजी से लोकप्रियता हासिल कर रहा है। यह हमारे चारों ओर है और जल्द ही देशभर के युवाओं के मनोरंजन का सबसे बड़ा साधन बनने वाला है। वास्तव में आज गेमिंग लोगों को उसी तरह की मान्यता दिलवा रहा है जो सालों पहले टीवी ने मुझे दी थी! ड्यू एरिना जैसे प्लेटफॉर्म गेमिंग समुदाय का जश्न मनाने और भारत में ई-स्पोर्ट्सका माहौल तैयार करने का शानदार तरीका है। मैं भारत की सबसे बड़ी गेमिंग चैंपियनशिप में आकर अगली पीढ़ी के ई-स्पोर्ट्स सितारों से मिलकर बहुत उत्साहित हूं।”

ग्रैंड फिनाले में भारत के प्रमुख पबजी खिलाड़ियों में से एक नमन ‘मॉर्टल’ माथुर ने भी हिस्सा लिया। 22 साल के इस खिलाड़ी को पबजी खेलने के बेमिसाल कौशल के लिए जाना जाता है और उन्होंने बैटल रॉयल गेम में अकेले एक के बाद एक टीमों का सफाया कर दिया।

मॉर्टल ने कहा, “ड्यू एरिना जैसे प्लेटफॉर्म और पबजी मोबाइल जैसे गेम भारत में एक गेमर के रूप में मेरी यात्रा के महत्वपूर्ण हिस्से रहे हैं। उन्होंने मेरे जैसे खिलाड़ियों को अनुमति दी है जो जनता से जुड़ने के लिए हिंदी में स्ट्रीम करते हैं और साथ ही उन्हें यह आशा भी दिलाई कि वे भी सामान्य से आगे बढ़कर अपने लिए एक मुकाम हासिल कर सकते हैं।”

उपभोक्ताओं को बेहतरीन अनुभव देने के लिए नए रुझानों के साथ प्रयोग करते हुए ड्यू एरिना हर संस्करण के साथ नई ऊंचाइयां हासिल कर रहा है। चौथे संस्करण की शुरुआत इस साल मार्च में हुई और भारत के 41 शहरों की 220 जगहों को कवर किया गया। 3 अक्टूबर को आयोजित सेमीफाइनल के बाद, शीर्ष 72 गेमर्स ने 20 लाख रुपये के पुरस्कार जीतने के लिए फाइनल में हिस्सा लिया। ऑन-ग्राउंड एन्काउंटर में, रॉकेट लीग और स्ट्रीट फाइटर जैसे गेम्स शामिल थे। डीओटीए 2 तथा सीएसजीओ में क्रमश: व्हूप्स! तथा एंटिटि गेमिंग को विजेता का खिताब मिला, जबकि हरगुन सिंह ने रॉकेट लीग और भगवंत बाग ने स्ट्रीट फाइटर जीता।

माउंट ड्यू एंड एनर्जी, पेप्सिको इंडिया केनिदेशकनसीब पुरीने ड्यू एरिना के बारे में बोलते हुए कहा, “एक ब्रांड के रूप में माउंटेन ड्यू ने हमेशा देशभर के उपभोक्ताओं को नए अनुभव देने का लक्ष्य रखा है। आज गेमिंग हमारे उपभोक्ताओं के लिए अभिन्न जुनून बन चुका है और अब इसे कुछ खास लोगों से जुड़ा नहीं माना जाता। भारत वर्तमान में गेमिंग के शीर्ष 5 बाजारों में शामिल है। ड्यू एरिना की स्थापना के बाद से इसमें 10 गुना की जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है। इस साल, हमने पिछले साल के 7 लाख की तुलना में इस साल की भागादारी को सफलतापूर्वक बढ़ाकर 1.5 मिलियन पर पहुंचा दिया। हम नए गेमर्स को एक जबरदस्त मंच देने की माउंटेन ड्यू की प्रतिबद्धता को हर साल आगे बढ़ा रहे हैं। ईएसएल और हमारे सभी साझेदारों की समान भागीदारी के साथ हम अपने प्लेटफॉर्म पर गेमिंग इकोसिस्टम के दिग्गजों को लाने पर बेहद गर्व महसूस कर रहे हैं।”

ईएसएल इंडिया के प्रबंध निदेशक और नोडविन गेमिंग के संस्थापक, अक्षत राठी ने कहा, “नोडविन गेमिंग और ईएसएल लगातार चौथे साल भारत में माउंटेन ड्यू के साथ साझेदारी करके बहुत खुश है। इस दौरान ड्यू एरिना भारत की सबसे बड़ी गेमिंग चैंपियनशिप बन गई है। आज हमने सफलतापूर्वक इस चैंपियनशिपको भारत की सबसे बेहतर ई-स्पोर्ट्सचैंपियनशिप बना दिया है जिसकी पहुंच आम जनता तक है। सबसे संतोष की बात यह है कि आज ई-स्पोर्ट्स में कैरियर बनाने का सपना साकार हुआ है। अब गेमर होना खराब नहीं रहा। यह तो बेहतर होने का तमगा है। मैं वास्तव में, इसके भविष्य को लेकर बहुत उत्साहित हूं।”

उपभोक्ता रिसर्च से हमें पता चला कि गेमिंग को लोग एक खेल के तौर पर देखना पसंद करते हैं इसलिए माउंटेन ड्यू ने दर्शकों तक गेमिंग का लाइव अनुभव पहुंचाने के लिए ओटीटी स्ट्रीमिंग सर्विस हॉटस्टार के साथ साझेदारी की। हॉटस्टार अपने प्लेटफॉर्म पर ऑनलाइन क्वालीफायर और चौंपियनशिप के ग्रैंड फिनाले वाले एपिसोड प्रसारित करेगा।

पेप्सिको इंडिया के बारे में

पेप्सिको ने 1989 में भारतीय बाजार में कदम रखा था और अब यह भारत में सबसे बड़ी बहुराष्ट्रीय फूड एंड बेवरेजेस कंपनी बन चुकी है। पेप्सिको इंडिया नियमित तौर पर देश में निवेश कर रही है और देशभर में स्थित 62 संयंत्रों के साथ कंपनी ने अपना विस्तृत बेवेरेज और स्नैक फूड कारोबार विकसित कर लिया है। पेप्सिको इंडिया के विविधता भरे पोर्टफोलियो में पेप्सी, लेज, कुरकुरे, ट्रॉपिकाना100%, गैटोरेड और क्वेकर जैसे आइकॉनिक ब्रांड्स शामिल हैं।

भारत में पेप्सिको का विकास ’’परफॉर्मेंस विद पर्पज’’ से निर्देषित है जो कि कन्वीनिएंट फूड्स एवं बेवेरेजेस के क्षेत्र में ग्लोबल लीडर बनने के हमारे ध्येय से निर्देषित है। ’विनिंग विद पर्पज‘ बाजार में सस्टेनेबिलिटी को हासिल करने तथा कारोबार के सभी पहलुओं में उद्देश्य को निहित करने की हमारी आकांक्षा का सूचक है। अधिक जानकारी के लिए www.pepsico.com देखें।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *