शेयर बाजार में सेंसेक्स-निफ्टी ने बनाया नया कीर्तिमान

- in कारोबार
मंगलवार को शेयर बाजार में फिर से नया कीर्तिमान बनाया। रुपये में रिकवरी के कारण सेंसेक्स व निफ्टी दोनों नई ऊंचाई पर पहुंचे। सेंसेक्स पहली बार 38,400 के स्तर को पार करने में कामयाब हुआ। वहीं निफ्टी ने 11,581.75 के नए स्तर को छुआ।शेयर बाजार में सेंसेक्स-निफ्टी ने बनाया नया कीर्तिमान

सेक्टोरल इंडेक्स में बैंकिंग, मेटल, फार्मा और रियल्टी में कमजोरी दिख रही है। सेंसेक्स 82 अंकों की उछाल के साथ 38,360 के स्तर पर खुला, जबकि निफ्टी की शुरुआत 24 अंक की बढ़त के साथ 11,576 के स्तर पर हुई। 

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी दबाव नजर आ रहा है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.25 फीसदी तक चढ़ा है, जबकि निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में हल्की गिरावट दिख रही है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.1 फीसदी बढ़ा है।

बाजार में कारोबार के इस दौरान दिग्गज शेयरों में टेक महिंद्रा, यूपीएल, एचसीएल टेक, आयशर मोटर्स, भारती इंफ्राटेल, बजाज ऑटो, कोल इंडिया, विप्रो, एशियन पेंट्स और एचडीएफसी बैंक 3.8-0.6 फीसदी तक चढ़े हैं। 

मिडकैप शेयरों में अदानी एंटरप्राइजेज, टोरेंट पावर, बर्जर पेंट्स और एसजेवीएन 3.4-2 फीसदी तक उछले हैं। स्मॉलकैप शेयरों में एडलैब्स एंटरटेनमेंट, सोरिल इंफ्रा, नेल्को, रैडिको खेतान और क्वालिटी 10.3-5 फीसदी तक मजबूत हुए हैं। 

बीएसई से आज 17 कंपनियां होंगी बाहर

छह महीने से अधिक समय से शेयरों में कारोबार बंद होने के कारण प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज बीएसई ने मंगलवार से 17 कंपनियों की सूचीबद्धता समाप्त करने की घोषणा की है। जिन कंपनियों का शेयर कारोबार ठप्प है, बीएसई उन्हें पिछले कुछ महीनों से सूची से बाहर करने के कार्य में लगी है।

सोमवार को एक परिपत्र में बीएसई ने कहा कि 21 अगस्त 2018 से प्रभावी असूचीयन समिति के आदेश के बाद छह महीनों से अधिक समय से कोई ट्रेडिंग नहीं करने वाली कंपनियों को एक्सचेंज की सूची से बाहर कर दिया जाएगा। सूची से बाहर हो रही कंपनियों में एसोसिएटेड मार्मो एंड ग्रेनाइट्स, बड़ौदा इलेक्ट्रिक मीटर्स, बिहार एयर प्रोडक्टस समेत कई अन्य कंपनियां शामिल हैं।

रुपये में 17 पैसे की मजबूती

डॉलर के मुकाबले रुपये की आज मजबूत शुरुआत हुई है और रुपया आज 17 पैसे की बढ़त के साथ 69.65 के स्तर पर खुला है। वहीं डॉलर के मुकाबले रुपया कल 69.82 के स्तर पर बंद हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अरुण जेटली ने कहा- NBFC में तरलता बनाए रखने के लिए हर संभव कदम उठाएगी सरकार

निवेशकों की चिंता को कम करने के लिहाज