शिक्षक बनने का एक और मौका, होंगी 30 हजार भर्तियां

jobs_1457172361राज्य सरकार ने सौ से कम छात्रों की संख्या वाले उच्च प्राथमिक स्कूलों में भी शारीरिक शिक्षकों की भर्ती का फैसला किया है। इस निर्णय से बेचलर इन फिजिकल एजुकेशन (बीपीएड) की डिग्री हासिल कर चुके करीब 30 हजार युवाओं को शिक्षक बनने का मौका मिलेगा।
इसके लिए जल्द ही कैबिनेट में प्रस्ताव लाया जाएगा। अभी तक सौ से ज्यादा छात्र वाले स्कूलों में यह सुविधा दी गई थी।

सूबे में 45,629 उच्च प्राथमिक स्कूल हैं। इनमें से करीब 30 हजार स्कूलों में शारीरिक शिक्षा के लिए शिक्षक नहीं हैं, क्योंकि वे इसके लिए जरूरी छात्र संख्या की शर्त पूरी नहीं करते।

शारीरिक शिक्षकों का मुख्य काम बच्चों को सेहतमंद रखने के लिए व्यायाम कराना और स्वास्थ्य संबंधी जानकारी देना है। यहां बता दें कि सर्व शिक्षा अभियान में बच्चों की शारीरिक शिक्षा पर विशेष जोर दिया जा रहा है।

 कक्षा 6, 7 और 8 के पाठ्यक्रम में ‘खेल और स्वास्थ्य’ नाम से एक किताब भी शामिल है, पर अधिकतर स्कूलों में इसे पढ़ाने के लिए ट्रेंड शिक्षक नहीं हैं।

यही वजह है कि सभी उच्च प्राथमिक स्कूलों में शारीरिक शिक्षकों की तैनाती के लिए सरकार नियमों में बदलाव करने जा रही है। प्रस्तावित नियमावली के अनुसार अब उन विद्यालयों में भी शारीरिक शिक्षकों की नियुक्ति हो सकेगी, जहां छात्र संख्या सौ से कम है। आवेदन के लिए न्यूनतम योग्यता स्नातक के साथ बीपीएड या समकक्ष डिग्री होगी।

भर्ती प्रक्रिया जून में ही शुरू करने की शासन की योजना है। इसके लिए जरूरी नियमावली करीब-करीब तैयार है। इसे कैबिनेट की मंजूरी मिलते ही विज्ञापन जारी कर दिया जाएगा।

 
 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button