शहरवासियों को पेयजल की उपलब्धता में कोई परेशानी न हो, इसके लिए की एक बड़ी पहल…

शहरवासियों को पेयजल की उपलब्धता में कोई परेशानी न हो, इसके लिए एक बड़ी पहल की गई है। दरअसल, शहर में जयनरायन चौराहे से पोर्टरगंज तक की फोरलेन बनने के कारण पालिका की पाइप लाइन इसके नीचे दब गई है। जिससे अब न तो कोई नया कनेक्शन दिया जा सकता है और न ही लीकेज पर त्वरित गति से उसे ठीक कराया जा सकता है। लीकेज होने पर पूरी सड़क की खोदाई करने के बाद लीकेज सही किया जाता है, जिसमें लोगों को पेयजल संकट से जूझना पड़ता है। अब इस समस्या से निजात दिलाने की पहल की गई है। जिसे शासन से मंजूरी मिल गई है।

गोंडा नगर पालिका परिषद में कुल 27 वार्ड हैं। जयनरायन चौराहे से पोर्टरगंज तक लखनऊ रोड से होकर पंतनगर, सिविल लाइन, मालवीय नगर, पटेलनगर, छेदीपुरवा, साहबगंज, मकार्थीगंज, बड़गांव आदि वार्ड निकल रहे हैं। फोरलेन बनाने के बाद अब पेयजल की समस्या आ गई है। जलकल की अवर अभियंता अर्चना का कहना है कि समस्या को अधिकारियों को बताया गया है। मिली स्वीकृति

– अमृत मिशन के शहरी अवसंरचना विशेषज्ञ इंजीनियर पीयूष यादव ने बताया कि पोर्टरगंज से जयनरायन चौराहे तक आठ किलोमीटर एरिया में पाइप लाइन बदली जानी है। फोरलेन के दोनों तरफ पाइप लाइन डाली जाएगी, जिसकी लंबाई कुल 16 किमी होगी। चार करोड़ का प्रस्ताव शासन को भेजा गया था। जिसे स्वीकृति मिल गई है। 70 लाख रुपये की पहली किश्त जल निगम को जारी कर दी गई है। मिलेगी सहूलियत

– पालिकाध्यक्ष उजमा राशिद का कहना है कि फोरलेन के नीचे पाइप लाइन दब गई थी। जिससे समस्या आ रही थी। इसको लेकर प्रोजेक्ट तैयार किया गया था। जिसे अब स्वीकृति मिल गई है। इससे शहरवासियों को काफी सहूलियत मिलेगी।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button