लोकसभा चुनाव के लिए मैनपुरी में प्रचार करेंगी मायावती, मुलायम हुए नाराज

बसपा सुप्रीमो मायावती द्वारा मैनपुरी में प्रचार करवाए जाने के प्लान से सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव नाराज हैं। 19 अप्रैल को मायावती का मैनपुरी में रैली का कार्यक्रम है। वहां से मुलायम सिंह यादव प्रत्याशी हैं। कहा जा रहा है कि अगर ऐसा हुआ तो दो दशक बाद दोनों नेता एक मंच पर होंगे।लोकसभा चुनाव के लिए मैनपुरी में प्रचार करेंगी मायावती, मुलायम हुए नाराज

गौरतलब है कि गठबंधन प्रत्याशियों की जीत के लिए सपा मुखिया अखिलेश यादव, बसपा सुप्रीमो मायावती और रालोद प्रमुख चौधरी अजित सिंह उत्तर प्रदेश में 11 साझा रैलियां करेंगे। रैलियों की शुरुआत 7 अप्रैल को देवबंद से होगी और अंतिम साझा रैली 16 मई को वाराणसी में करने का फैसला किया गया है।

इन रैलियों में आसपास के लोकसभा क्षेत्रों के उम्मीदवारों और नेताओं के साथ कार्यकर्ता भी शामिल होंगे। इसके अलावा ये नेता अलग-अलग सपा, बसपा और रालोद के उम्मीदवारों के लिए वोट मांगेंगे। रैलियों में तीनों ही दलों की प्रचार सामग्री तथा झंडे में इन दलों के नेताओं के चित्र तथा चुनाव चिह्नों का संयुक्त रूप से प्रदर्शन किया जाएगा।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

क्या मायावती के साथ मंच साझा करेंगे मुलायम सिंह यादव?

खास बात यह है कि बसपा सुप्रीमो मायावती 19 अप्रैल को अपने सबसे बड़े सियासी दुश्मन मलायम सिंह यादव के लिए वोट मांगने मैनपुरी जाएंगी।

वैसे तो नेताजी मायावती की मैनपुरी में सभा कराए जाने पर नाराज बताए जा रहे हैं, पर यह देखना दिलचस्प होगा कि जब अखिलेश के साथ मायावती की मैनपुरी में साझा रैली तय हो चुकी है तो मुलायम के लिए माया किस तरह वोट मांगती हैं। मुलायम बतौर प्रत्याशी मायावती के साथ मंच साझा करते हैं या नहीं।

इस बीच, सपा के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने शुक्रवार को यहां कहा कि साझा रैलियों के लिए सपा, बसपा, रालोद के कार्यकर्ता, पदाधिकारी, विधायक, सांसद एकजुट होकर प्रचार में जुट गए हैं। सभी का एक ही लक्ष्य है कि लोकतंत्र और संविधान को बचाने के लिए भाजपा को इस बार दिल्ली न पहुंचने दिया जाए।

योगी के गढ़ में 13 मई को दहाड़ेंगे माया व अखिलेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में गठबंधन के नेता मायावती, अखिलेश और चौधरी अजित सिंह 13 मई को दहाड़ेंगे। इसमें गोरखपुर, महराजगंज और कुशीनगर लोकसभा क्षेत्र के कार्यकर्ता शामिल होंगे। अंतिम साझा रैली 16 मई को वाराणसी में होगी। इसमें वाराणसी के अलावा चंदौली, मिर्जापुर, राबर्ट्सगंज के कार्यकर्ता हिस्सा लेंगे।

ये है रैलियों का पूरा कार्यक्रम

तारीख– रैली स्थल
7 अप्रैल– देवबंद
13 अप्रैल– बदायूं
16 अप्रैल– आगरा
19 अप्रैल– मैनपुरी

20 अप्रैल– रामपुर, फिरोजाबाद
25 अप्रैल– कन्नौज
01 मई– फैजाबाद
08 मई– आजगगढ़
13 मई– गोरखपुर
16 मई– वाराणसी

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button