लगातार बारिश से बढ़ता जा रहा सरयू व घाघरा नदी का जलस्तर, जलभराव ने बढ़ाया संकट

लगातार बारिश से सरयू व घाघरा नदी का जलस्तर बढ़ता जा रहा है। ऐसे में घाघरा नदी खतरे के निशान से 50 सेमी ऊपर बह रही है। वहीं, बारिश के चलते शहर से लेकर लोग संकट का सामना कर रहे हैं।

भंभुआ: सुबह आठ बजे घाघरा नदी के एल्गिन ब्रिज पर ली गई माप के अनुसार नदी का जल स्तर 106.566 रहा, जो 10 बजे बढ़कर 106.576 हो गया। मौजूदा समय घाघरा खतरे के निशान से 50 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है। गिरजा, शारदा व सरयू बैराज से 298590 क्यूसेक पानी नदी में डिस्चार्ज हो रहा है। एसडीएम ज्ञानचंद गुप्ता ने बताया कि नदी का जल स्तर मंगलवार की सुबह 10 बजे से स्थिर रहा।

उमरी बेगमगंज: सरयू-घाघरा नदी का जलस्तर बढ़ने से ग्रामीणों में भय व्याप्त है। ऐलीपरसौली ग्राम पंचायत का मजरा लकड़हनपुरवा बाढ़ की चपेट में आ गया है। वहीं, कई अन्य मजरे भी निशाने पर हैं।

हलधरमऊ: बालपुर कटरा शहीद मार्ग से बंदरे बाबा को जानेवाली सड़क नंदा पुरवा के पास पुलिया सहित बह गई है। इस रास्ते से लगभग 40 गांवों के लोगों का आवागमन होता है। इसके अलावा शिवशंकर पुरवा से बटपुरवा को जाने वाली सड़क व पुलिया बह गई है। पानी लगातार बढ़ता ही जा रहा है। इस पर भी 10 गांवों के लोगों का आवागमन होता है। इन गांवों के लोगों को अब कई किलोमीटर चक्कर काटकर घर पहुंचना पड़ता है। शिवशंकर पुरवा के दयाराम, पवनकुमार, हरिश्चंद्र, रोहित, अवधेश शुक्ल, बच्चाराम व विरतिहनपुरवा के रमेश, अश्वनी सहित आठ घरों में पानी घुस गया है। जयसिंहपुरवा के शबनम, नकछेद, रामपाल, सर्वांगपुर के संतोष पांडेय का कच्चा घर गिर गया है।

जलभराव से परेशानी, कब चेतेंगे अधिकारी

गोंडा: ²श्य एक- गायत्रीपुरम चौराहे से डाकघर को जाने वाली रोड पर जगह-जगह गड्ढे हैं। बारिश के कारण इसमें पानी भर गया है, जिससे इन गड्ढों से होकर आने जाने वालों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। शिकायत के बाद भी इस पर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। ²श्य दो- पंतनगर से बादशाहबाग को जाने वाली सड़क के रास्ते पर पानी भरा है। इससे आवागमन में दिक्कत हो रही है। सोमवार की रात से शुरू हुई बारिश मंगलवार की सुबह तक होती रही। इससे जलभराव की समस्या और बढ़ गई। इस दौरान जिला अस्पताल के सामने नाले की सफाई को लेकर विशेष अभियान चलाया गया। शालिनी श्रीवास्तव व निरुपमा का कहना है कि आवास विकास कॉलोनी में जलभराव की समस्या है। अफसरों को ध्यान देना चाहिए। सदफ खान का कहना है कि स्टेशन रोड पर डीआइओएस कार्यालय के बगल अंदर को जाने वाली सड़क पर भी जलभराव से लोग परेशान हो रहे हैं। इंदिरानगर में वाणी विद्या मंदिर स्कूल के पास जलभराव से दिक्कत है।

ईओ विकास सेन का कहना है कि जलभराव की शिकायतों पर पालिका की टीमों को भेजकर कार्रवाई की जा रही है। नालों की सफाई को लेकर विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button