रिश्वत लेकर खान बांटने वाला वसुन्धरा का अफसर गिरफ्तार

rajasthan-acb-raid-300x225नई दिल्ली। राजस्थान में एक बड़े घूसकांड का खुलासा हुआ है। वसुम्धरा सरकार के बड़े नौरकशाह को रंगे हाथ पकड़ा गया है। तीन करोड़ 85 लाख की घूस लेने के आरोप में राज्य के खनन विभाग के प्रमुख सचिव अशोक सिंघवी को गिरफ्तार कर लिया गया। दो अफसरों की गिरफ्तारी पहले हो चुकी है।

अशोक सिंघवी को एंटी करप्शन ने जयपुर में उनके घर से गिरफ्तार किया गया। इससे पहले करीब 5 घंटे तक एसीबी ने जांच पड़ताल की। सिंघवी पर आरोप है कि शेरखान नाम के एक व्यक्ति की बंद पड़ी खानों को फिर से शुरू करने के लिए 3 करोड़ 85 लाख रुपये की घूस ली है।

एसीबी की टीम ने अशोक सिंघवी के घर पर करीब 5 घंटे पूछताछ की। इसके बाद देर रात 1 बजे अशोक सिंघवी को गिरफ्तार कर लिया गया। एसीबी के 10 से ज्यादा अफसरों की टीम ने अशोक सिंघवी के घर की तलाशी ली, उनका दफ्तर खंगाला और इस दौरान कई अहम दस्तावेज जब्त किए। अशोक सिंघवी 1983 बैच के आईएएस अधिकारी हैं, सिंघवी राजस्थान के खान और पेट्रोलियम विभाग के प्रमुख सचिव के पद पर तैनात थे।

अशोक सिंघवी से पहले एसीबी ने खनन विभाग से जुड़े दो अफसरों पंकज गहलोत और पुष्कर आमेटा की गिरफ्तारी की। दोनों से 3 करोड़ 85 लाख की रकम बरामद होने का दावा किया है।

करोड़ों रुपये के इस घूसकांड में शेरखान के अलावा सीए श्याम सुंदर और संजय सेठी की भी गिरफ्तारी हुई। सभी से एसीबी ने कड़ी पूछताछ की है। श्याम सुंदर और संजय सेठी के ठिकानों से एसीबी को लाखों रुपये का कैश मिला। कैश इतना ज्यादा था कि नोट गिनने की मशीन मंगवानी पड़ी। राजस्थान का सबसे बड़ा घूसकांड कहे जा रहे इस मामले में एसीबी ने जयपुर से पहले उदयपुर, भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़ में छापे मारे और गहरी छानबीन की।

 

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button