तो इसलिए राहुल गांधी पीएम मोदी की तरफ से मांगी माफी, खुद बताई ये बड़ी वजह…

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर राफेल डील से लेकर जीएसटी और किसान सम्मान निधि योजना तक वार किया. राहुल गांधी ने जीएसटी से कारोबारियों को नुकसान पहुंचने का जिक्र करते हुए कहा कि पीएम मोदी की इस भयंकर गलती के लिए मैं आपसे उनकी तरफ से माफी मांगता हूं.

जीएसटी से कारोबारियों को होने वाले नुकसान का हवाला देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि हम गब्बर सिंह टैक्स को सच्ची जीएसटी में बदलेंगे, जिसमें एक साधारण टैक्स होगा. राहुल ने कारोबारियों को संबोधित करते हुए कहा, ‘जीएसटी से आपका जो नुकसान हुआ और जो कष्ट हुआ है, उसके लिए मैं आपसे नरेंद्र मोदी की तरफ से माफी मांगता हूं. उन्होंने भयंकर गलती की है और हम इस गलती को सही करेंगे.’

इससे पहले जनसभा की शुरुआत में राहुल गांधी ने कहा, ‘उत्तराखंड की पवित्र भूमि पर आकर मुझे बहुत खुशी हो रही है. सेना में उत्तराखंड की जो भागीदारी है, पूरा हिंदुस्तान उसका दिल से स्वागत करता है. पुलवामा में सीआरपीएफ के सैनिक शहीद हुए. पुलवामा ब्लास्ट के बाद हमने तुरंत कहा कि कांग्रेस पार्टी पूरे दम के साथ सरकार और देश के साथ खड़ी है. लेकिन उसी समय प्रधानमंत्री कॉर्बेट पार्क में वीडियो शूट में लगे हुए थे. मुस्कराते हुए साढ़े तीन घंटे वो यहां लगे रहे और दिनभर देशभक्ति की बात करते हैं.’

bsp सुप्रीमो का PM पर निशाना, बोली जितना पैसा प्रचार पर खर्च किया, उससे हर गांव में स्कूल-अस्पताल खुल जाते

जब राहुल ने कहा- शर्म आनी चाहिए

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के ऐलान पर भी राहुल गांधी ने मोदी सरकार को घेरा. राहुल ने वित्त मंत्री के रूप में पीयूष गोयल के बजट भाषण पर कहा कि संसद में पांच मिनट तक बीजेपी के सभी सांसदों ने नरेंद्र मोदी की तरफ देखकर तालियां बजाईं. राहुल ने कहा, ‘मैंने खड़गे जी से पूछा ये तालियां क्यों बजा रहे हैं. उन्होंने बताया कि हिंदुस्तान के किसान को प्रतिदिन साढ़े तीन रुपये देने का फैसला किया है.’

राहुल ने कहा, ‘यह ऐलान सुनकर बीजेपी के सभी सांसदों ने पीएम मोदी की तरफ देखकर 5 मिनट तालियां बजाईं. शर्म आनी चाहिए आपको. एक चोर को आप 30 हजार करोड़ देते हो और हिंदुस्तान के किसानों को आप दिन का साढ़े तीन रुपये देते हो और बेवकूफ बनाने के लिए ताली बजाते हो.’

इतना ही नहीं राहुल गांधी ने नीरव मोदी और ललित मोदी का उदाहरण देते हुए कहा कि सब चोरों के नाम मोदी ही क्यों होते हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी ने हिंदुस्तान के बैंकों का पैसा मोदियों को ही दे दिया.

अनिल अंबानी ने ऐसा क्या किया

राफेल का मुद्दा उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि जो शख्स कागज का हवाई जहाज नहीं बना सकता है, उसे पीएम मोदी ने दुनिया के सबसे बड़ा रक्षा सौदा दे दिया. 526 करोड़ का राफेल 1600 करोड़ में नरेंद्र मोदी ने ले लिया. अनिल अंबानी ने 10 पहले कंपनी बनाई और उसे इतना बड़ा कॉन्ट्रैक्ट दे दिया.

राहुल ने कहा कि जब सीबीआई चीफ जांच की बात कहते हैं तो रात को डेढ़ बजे पीएम मोदी उन्हें हटा देते हैं. लेकिन सुप्रीम कोर्ट कहता है कि उन्हें वापस लाया जाए. इसके बाद फिर नरेंद्र मोदी उन्हें हटा देते हैं. राहुल ने फिर राफेल की जांच के लिए जेपीसी का जिक्र किया.

कांग्रेस में शामिल हुए बीसी खूंडरी के बेटे

बीजेपी नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बीसी खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी ने राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस का हाथ थामा. इस दौरान राहुल गांधी ने पूर्व सीएम बीसी खंडूरी का जिक्र करते हुए भी पीएम मोदी को घेरा. राहुल ने कहा, ‘बीसी खंडूरी ने संसद की कमेटी में राष्ट्रीय सुरक्षा का सवाल पूछा लिया कि जो ताकत सेना के पास होनी चाहिए, वो नहीं है. खंडूरी जी ने सच्चाई बोली तो नरेंद्र मोदी ने उस कमेटी से बीसी खंडूरी को हटा दिया.’

शहीदों के परिवारों से मुलाकात

14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के परिवारों से भी राहुल गांधी के मिलने का कार्यक्रम है. साथ ही पुलवामा हमले के बाद नौशेरा में IED विस्फोट में शहीद हुए मेजर चित्रेश बिष्ट के परिवार से भी राहुल गांधी को मिलना है.

उत्तराखंड में पांच लोकसभा सीटें हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में इन सभी सीटों पर भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की थी. ऐसा तब हुआ था, जबकि राज्य में कांग्रेस की सरकार थी. इसके बाद 2017 में विधानसभा चुनाव हुए तो बीजेपी को सत्ता मिली. अब एक तरफ जहां राज्य में भी बीजेपी की सरकार है, ऐसे में कांग्रेस के लिए मजबूत माने जाने वाले उत्तराखंड में वापसी करना पार्टी और राहुल गांधी के लिए बड़ी चुनौती होगा. बता दें कि उत्तराखंड में बीजेपी और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला होता है. हालांकि, इस चुनाव में बसपा और सपा ने यूपी की तरह ही उत्तराखंड में भी साथ लड़ने का फैसला किया है, लेकिन हरिद्वार लोकसभा सीट के अलावा गठबंधन का असर नगण्य है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button