आडवाणी नही! ये होंगें भारत के अगले राष्ट्रपति, मोदी भी आए साथ

नई दिल्ली। राष्ट्रपति का चुनाव जुलाई में होना है। ऐसे में कई नाम हैं जो इस बार रेस में हैं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तो भाजपा का एक खेमा लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन का नाम इसके लिए आगे बढ़ा रहा है। खबरों के मुताबिक आरएसएस के दो बड़े नेता भैयाजी जोशी और दत्तात्रेय होसबोले सुषमा को प्रोजेक्ट कर रहे हैं।

आप भी चेकबुक का करते है इस्तेमाल, तो ये खबर आपके लिए…

राष्ट्रपति का चुनाव जुलाई में

माना जा रहा है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत की भी इसे मौन स्वीकृति है। संघ का समर्थन आगे भी बना रहा तो संभव है कि सुषमा राष्ट्रपति बन जाएं। दूसरी तरफ सुमित्रा महाजन का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ बेहतर तालमेल है। राष्ट्रपति चुनाव में सभी सांसद और विधायक वोट देते हैं। भाजपा खबरों के अनुसार राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी का फैसला यूपी और पंजाब सहित पांच राज्यों के चुनावी नतीजों पर निर्भर करेगा।

RBI का नया नियम: अब बिना इस कागज के नहीं मिलेगा बैंक से पैसा

राष्ट्रपति चुनाव के लिहाज से अंकगणित अभी पूरी तरह भाजपा के पक्ष में नहीं है। चुनावी राज्यों में उम्मीद के अनुसार नतीजे नहीं आए तो ऐसा उम्मीदवार लाना होगा, जिसके नाम पर विपक्ष सहमत हो। ऐसे में सुषमा की दावेदारी और मजबूत होने की उम्मीद है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button