राणसी जनपद में सांड का पता बताने वाले को मिलेगा 50 हजार का ईनाम

एजेन्सी/  varanasi-bullउत्तर प्रदेश के वाराणसी जनपद में एक अजीबोगरीब इश्तेहार दिया गया है. इस इश्तेहार में एक गुमशुदा सांड का पता बताने वाले को 50 हजार रूपए ईनाम देने की बात कही गई है.

दरअसल वाराणसी के मनोज पांडेय का प्यारा सांड गुम हो गया है जिसके बाद से वह काफी उदास हैं. इतना ही नहीं सांड के गम में उन्होंने खाना-पीना सब छोड़ दिया है और उसकी तलाश में इधर-उधर भटक रहे हैं. मनोज पांडेय ने थाने में एफआईआर भी दर्ज करवाई है.

इसके अलावा उन्होंने सांड को खोजने के लिए पोस्टर भी छपवाए हैं और सांड ढूंढ़कर लाने वाले को 50 हजार रुपए का ईनाम देने का भी एलान किया है.

मनोज ने अपने सांड को खोजने के लिए एक विज्ञापन भी जगह-जगह चिपकाया है, जिसमें लिखा है  कि उनके सांड का नाम बादशाह है जिसकी उम्र 3 साल है और रंग काला सफ़ेद है. साथ ही लम्बाई लगभग 4 फीट है और कान हल्का कटा होने के साथ शरीर की बनावट दोहरी बदन है और जो कोई भी इसे ढूंढ़ कर लाएगा, उसे 50 हजार रुपए नगद राशि दी जायेगी.

बता दें वाराणसी के सारनाथ थाना क्षेत्र स्थित बरईपुर निवासी मनोज पाण्डेय सांड पालने के शौक़ीन हैं और उनकी दीवानगी अपने सांडों के प्रति कुछ ऐसी है कि दो दिनों पहले इनका पालतू सांड जिसका नाम बादशाह है, कहीं गायब हो गया. इसके बाद मनोज ने सारनाथ थाने में जाकर उसके गायब होने की रिपोर्ट दर्ज कराई.

मनोज के मुताबिक इसके पूर्व उनके दो और पालतू सांड चंदू और मंडू भी गायब हो चुके हैं और अब वो बादशाह को नहीं खोना चाहते. सारनाथ पुलिस भी मनोज की सांड के प्रति दीवानगी देख सांड की तलाश कर रही है.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button