राज ठाकरे की शरण में ‘अंगूरी भाभी’, विवाद को मिला ‘मराठी’ रंग

r-sbx-shilpa-shinde-pc-vo-2204-skh.00_14_24_05.Still002-580x395नई दिल्ली/मुंबई : टीवी अभिनेत्री शिल्पा शिंदे यानी अंगूरी भाभी के मामले में नया मोड़ आ गया है. अब इस विवाद में राजनीति भी घुस गई है. शिंदे के समर्थन में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना(मनसे) आ गई है. मनसे ने पूरे विवाद को मराठी रंग दे दिया है. पार्टी ने कहा है कि कोई महाराष्ट्र में काम करने से रोक नहीं सकता.

एंड टीवी पर आने वाले धारावाहिक ‘भाबीजी घर पर है’ की किरदार अंगूरी भाभी यानि शिल्पा शिंदे ने CINTAA और शो की प्रोड्यूसर बिनाफर कोहली के खिलाफ मनसे प्रमुख राज ठाकरे की मदद की गुहार की है. राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना की फिल्म विंग (महाराष्ट्र नवनिर्माण चित्रपट कर्मचारी सेना) ने कहा कि कलाकारों से ज्यादती बर्दाश्त नहीं होगी.

विंग के अध्यक्ष अमिया खोपकर ने कहा कि जो भी शिल्पा को काम करने से रोकेगा उसे अंजाम भुगतना होगा. विंग ने कहा कि उनके अलावा भी कई लोगों ने शो छोड़ा था. लेकिन, किसी भी एसोसिएशन ने उन पर सवाल नहीं उठाए. अमिय खोपकर ने भी कहा कि वह CINTAA को किसी भी हाल में कोई बेतुका आदेश जारी नहीं करने देंगे.

मनसे फिल्म विंग ने इस मामले को मराठी बनाम गैर मराठी का मुद्दा बताते हुए कहा कि एक मराठी कलाकार को मराठी फिल्मों में काम करने से नहीं रोका जा सकता. विंग ने कहा कि यदि शिल्पा को अन्य सीरियलों में काम करने से रोका गया तो पार्टी अपने जाने-पहचाने अंदाज में इसका विरोध करेगी.

 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button